Home राज्य उत्तर प्रदेश Killed a fifth class student and threw it into the forest: बच्चे के एवज में मांगेएक करोड़, परिवार को लगी किसी की शरारत, पांचवी के छात्र को मारकर जंगल में फेंका

Killed a fifth class student and threw it into the forest: बच्चे के एवज में मांगेएक करोड़, परिवार को लगी किसी की शरारत, पांचवी के छात्र को मारकर जंगल में फेंका

1 second read
0
30

यूपी में हत्याओं और अपहरण की घटनाएं रोज हो रहीं है। अब सीएम योगी आदित्यनाथ की नगरी गोरखपुर में भी अपराधियों ने अपने हौसलेदिखाए। गोरखपुर में पांचवी में पढ़ने वालेएक लड़केको अपहरण कर लिया और उसको छोड़ने के एवज में एक करोड़ रुपये की फिरौती की मांग की। छात्र बलराम की अपहरणकर्ताओंं ने हत्या कर दी। संदेह के आधार पर उठाए गए दो युवकों की निशानदेही पर पुलिस ने किराना व्यापारी के बेटे बलराम की लाश को सोमवार की शाम जंगल के किनारे एक बोरे से बरामद किया। अपहरण के बाद बलराम के घर वालों के पास रविवार को अलग-अलग समय पर तीन फोन कॉल आई। बता दें कि घरवालों को लगा कि कोई उनसे मजाकर कर रहा है। उन्होंने किसी की शरारत समझी लेकिन जब शाम तक बच्चा घर नहीं आया तो उन्होंने बच्चे के लापता होने की सूचना पुलिस को दे दी। फोन करने वालों ने एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी। पहले तो घर वालों ने इसे किसी की शरारत समझी लेकिन देर शाम तक बच्चे का कुछ पता नहीं चला तो उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। गोरखपुर के पिपराइच थाना क्षेत्र स्थित जंगल छत्रधारी के मिश्रौलिया टोला निवासी महाजन गुप्ता की किराना की दुकान उनके घर में ही है और वह जमीन का काम से जुड़ा हुआ है।

उनका बेटा बलराम रविवार को घर से बाहर खेलने के लिए गया और फिर शाम तक वापस नहीं आया है। बलराम के घर वालों के पास रविवार को अलग-अलग समय पर तीन फोन कॉल आई। फोन करने वालों ने एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी। पहले तो महाजन ने इसे किसी की शरारत समझी लेकिन देर शाम तक बच्चे का कुछ पता नहीं चला तो उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। बालक के अपहरण और एक करोड़ रुपये फिरौती मांगे जाने की सूचना ने पुलिस तुरंत हरकत में आ गई। मामले में एसटीएफ और क्राइम ब्रांच को लगाया गया। पिपराइच थाने की पुलिस भी सक्रिय हो गई। पुलिस टीमों ने संदेह के आधार जंगल धूसड़ इलाके से एक मुर्गा कारोबारी, मोबाइल सिम बेचने वाले एक दुकानदार और एक प्रॉपर्टी डीलर को हिरासत में ले लिया। पुलिस इनसे पूछताछ कर रही थी। लेकिन रविवार की ही रात को अपहरणकर्ताओं ने फोन कर कोई भी रकम देने पर बच्चे छोड़ने की बात की। परिवार वालों ने अपहरणकर्ताओंसे 20 लाख रुपये तक की फिरौती देनेकी बात की। जबकि इधर संदेह के आधार पर पकड़े गए लोागें में से दो ने अपना मुंह खोल दिया और बताया कि बच्चे की हत्या कर दी गई है। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने जंगल तिनकोनिया में नाले के किनारे बोरे में भरकर फेंकी गई लाश बरामद कर ली। डॉ. सुनील गुप्ता, एसएसपी ने बताया कि अपहतार्ओं ने बच्चे की हत्या कर दी। दो अपहर्ता पकड़े गए हैं, उन्हीं की निशानदेही पर बच्चे की लाश बरामद की गई है। अन्य अपहतार्ओं की तलाश की जा रही है। सभी स्थानीय ही हैं। शुरूआती जांच में बच्चे के अपहरण की वजह तो पैसा ही समझ में आ रहा है पर अन्य पहलुओं की भी पड़ताल की जा रही है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In उत्तर प्रदेश

Check Also

Bihar Election – Assembly candidate shot dead: बिहार चुनाव- विधानसभा प्रत्याशी की गोली मारकर हत्या, समर्थकों ने पीट-पीट कर एक हमलावार को मारा

बिहार में चुनावों का दौर चल रहा है। लेकिन यह चुनावी दौर अब खूनी हो चला है। बिहार के शिवहर …