Home खास ख़बर Hearing Rafale’s roar in the sky heart beat increased: आसमान में राफेल की गर्जना सुन बढ़ गई धड़कने, हर नजर दीदार के लिए थी बेताव

Hearing Rafale’s roar in the sky heart beat increased: आसमान में राफेल की गर्जना सुन बढ़ गई धड़कने, हर नजर दीदार के लिए थी बेताव

0 second read
0
0
17
आशीष श्रीवास्तव। अंबाला सिटी।  सुबह से ही अंबाला में हर नागरिक को राफेल का इंतजार था। हर जुबां पर चर्चा थी। तमाम लोग न्यूज चैनलों पर नजर गढ़ाए बैठे थे। सबसे ज्यादा उत्सुक वह लोग थे जो एयरफोर्स स्टेशन के आस पास रहते थे। उनके कान लड़ाकू विमान की गर्जना पर लगे हुए थे। बीच बीच में वह अपने अपने घरोें की छत पर जा कर आसमान को ताक रहे थे। सुरक्षा के नजरिए से पुलिस ने एयरबेस के आसपास नाके लगा रखे थे। दोपहर करीब 3.15 पर आसमान पर गर्जना हुई तब लोगों की धड़कने बढ़ गई। हर नजर आसमान पर टिक गई। दूर से राफेल दिखा और लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई। लोगों ने तालियों की थाप के बीच विमानों का स्वागत किया।
नागरिकों ने तालियों से और एयरफोर्स ने वाटर कैनन सैल्यूट से किया स्वागत
बुधवार की दोपहर करीब 3.15 पर पांच राफेल लड़ाकू विमानों ने पहले तो एयरबेस का चक्कर लगाया और फिर एक एक कर रनवे पर स्मूथ लैडिंग की। इधर सड़कों पर हाइवे के ओवरब्रिज पर, मकान की छतों पर से लोगों ने इस ऐतिहासिक लम्हे को अपने जहन में कैद कर लिया। पूरे दिन एक ही चर्चा कि राफेल हमारी सेना के लिए गेम चेंजर साबित होगा। उधर विमान के रनवे पर लैंड करते ही उनका स्वागत वाटर कैनन सैल्यूट से किया गया। यह एयरफोर्स का परंपरागत तरीका है। इस मौके पर एयरचीफ मार्शल समेत अन्य बड़े अधिकारी मौके पर माौजूद रहे।

देखते ही देखते वीडियो और फोटो हो गए वायरल
राफेल की लैडिंग के चंद मिनटों के बाद ही आसमान पर गर्जना कर उड़ान •ारते चौथी पीढ़ी के आधुनिक लड़ाकू विमान के छोटे वीडियो क्लिप और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। हालांकि सुरक्षा के नजरिए से प्रशासन ने एयरबेस के तीन किलोमीटर के दायरे में धारा 144 लगा दी थी और इसके संग ही फोटोग्राफी और ड्रोन की उड़ान को बैन कर दिया था। कुछ वीडियो टिवटर पर आधिकारिक तौर पर पोस्ट किए गए थे  और कुछ दूर दराज के लोगों ने आसमान में मंडराते विमान की वीड़ियों बना ली। कई लोग ऐसे •ाी थे जिन्होेंने टीवी पर राफेल की खबर देखते हुए अपना वीडियो बनवाया और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। सबसे सुखद बात यह रही कि किसी तरह की कोई अप्रिय घटना सामने नहीं आई और राफेल सुरक्षित तरीके से अांबला एयरफोर्स के एयरबेस में लैंड कर गया।
एयरबेस के पास के गांवों मेें लगे थे नाके
सुरक्षा के नजरिए से पुलिस पूरी तौर पर मुस्तैद थी।  एयरबेस के पास के गांव धूलकोट, बरनाला, गरनाला, जग्गी सिटी सिटी सेंटर के पास नाका लगा हुआ था और पुलिस हर आने और जाने वाले की पहचान चेक कर रही थी। गांव धूलकोट में किसी बाहरी व्यक्ति को अंदर आने नहीं दिया जा रहा था। सिर्फ उन लोगों को आने की इजाजत पुलिस ने दी जिसके पास पहचान पत्र था जिससे साबित हो इसके वह इसी इलाके का रहने वाला है।
गली मोहल्ले में घूम कर छतों से नीचे उतारा
बलदेव नगर के कई इलाके एयरबेस के बहुत पास हैं। सुबह से ही उत्सुकता के चलते कई लोग अपने घरों की छत पर चढ़ गए। इधर पुलिस की  गश्त हुई और उन्होंनें एनाउंसमेंट कर लोगों को चेताया कि अगर वह नीचे नहीं उतरते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद लोग अपनी छतों से नीचे आए। सुरक्षा के नजरिए से शाम तक पुलिस गश्त करती रही।
Load More Related Articles
Load More By Asheesh Srivastava
Load More In खास ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Corona havoc continues, 432 cases now active in districts with 84 new cases: कोरोना का कहर जारी, 84 मामलों के साथ अब 432 हुए जिले में एक्टिव केस

अंबाला सिटी।  अंबाला में कोरोना लगातार अपना दायरा बढ़ता जा रहा है। सोमवार को जिले में आए 84…