Homeखास ख़बरDo not burn crackers appealing to Delhiites Open in Google Translate: दिल्लीवासियों...

Do not burn crackers appealing to Delhiites Open in Google Translate: दिल्लीवासियों से अपील न जलाएं पटाखे, डिजिटिल प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल ने कहा, शाम 7.39 पर दिपावली पूजा एक साथ

दिल्ली में प्रदूषण की मात्रा इन दिनों बढ़ी हुई है। दिल्ली वासी कोरोना और प्रदूषण दोनों से जंग लड़ रहे हैं। आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि दिल्लीवासी पटाखे न जलाएंऔर एक साथ लक्ष्मी जी की पूजा क रें जिससे सभी को कोरोना और प्रदूषण से मुक्ति मिल सके। सीएम केजरीवाल ने कहा कि सभी लोग दिवाली के दिन 7.39 बजे एक साथ लक्ष्मी पूजन करें और कोरोना व प्रदूषण को भगाने का संकल्प लें। आज सीएम केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया और उसी में यह बाते कहीं। उन्होंने कहा कि दिवाली के लिए अलग इंतजाम किया है। इस बार हम दिवाली के दिन 14 नवंबर को शाम 7.39 पर दो करोड़ लोग मिलकर लक्ष्मी पूजन करेंगे। मैं अपने मंत्रियों के साथ दिल्ली में एक जगह लक्ष्मी पूजन शुरू करूंगा, कुछ टीवी चैनल उसका सीधा प्रसारण करेंगे। इस मौकेपर केजरीवाल ने कहा अपने पड़ोसी राज्यों को भी निशाने पर लिया। उन्होंने पड़ोसी राज्यों को पराली के लिए कार्य न करने का अरोप लगाया।

साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पराली के कारण में हर साल इस महीने ेमें प्रदूषण बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली इस समय कोरोना और प्रदूषण से जंग लड़ रही है। हम सबके पूरे प्रयास हैं कि इन दोनों से हम जीत जाएं। केजरीवाल ने कहा हर साल इस महीने में दिल्ली का प्रदूषण बढ़ जाता है क्योंकि पड़ोसी राज्यों से पराली का धुआं यहां पहुंचता है। कई सालों से यह हो रहा है लेकिन राज्य सरकारें इस पर ध्यान नहीं देतीं। इन सरकारों ने किसानों के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया। दिल्ली सरकार ने इसे लेकर एक बहुत अच्छा समाधान ढूंढ निकाला है। दिल्ली सरकार ने पूसा इंस्टीट्यूट के साथ मिलकर एक केमिकल बनाया है जो पराली पर डालने से वह खाद में बदल जाता है। इसके बाद मुझे उम्मीद है कि यह आखिरी साल होगा जब पराली जलाई जाएगी। अगले साल से सभी राज्य इस केमिकल का प्रयोग करेंगे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular