Homeअर्थव्यवस्थाAmazon extended a hand to help Kishore Biyani, but said to end...

Amazon extended a hand to help Kishore Biyani, but said to end the deal with Reliance: किशोर बियानी की मदद के लिए अमेजन ने बढ़ाया हाथ, लेकिन कही रिलांयस से डील खत्म करने की बात

बिग बजार वाले फ्यूचर ग्रुप ने रिलायंस के साथ डील की और खबर आईकी रिलांयस ने फ्यूचर ग्रुप को खरीद लिया है। लेकिन अब रिलायंस इंडस्ट्रीज और फ्यूचर ग्रुप की डील मेंनया एंगल सामने आ गया है। फ्यूचर ग्रुप को बचाने के लिए अब अमेजन ने उसेवित्तीय सहायता देने की पेशकश की है। फ्यूचर ग्रुप को अमेजन ने रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड के साथ डील खत्म करने की बात कही है। अमेजन फ्यूचर ग्रुप को पैसे मदद करने के लिए बड़ा और मजबूत निवेशक दिलाने की पेशकश कर रहा है। खबर है कि फ्यूचर कूपंस प्राइवेट लिमिटेड में अमेजन की 49 फीसदी हिस्सेदारी है। इसके पहले भी अमेजन नेफ्यूचर ग्रुप के संस्थापक किशोर बियानी को वित्तीय साझेदार और निवेशक ढूंढने सहायता की थी। फ्यूचर ग्रुप के खिलाफ अमेजन ने कानूनी केस फाइल किया है।

बावजूद इसके अमेजन फ्यूचर ग्रुप के लिए नया निवेशक लाने के लिए तैयार है। बता देंकि हााल ही में अमेरिकन ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ने किशोर बियानी के नेतृत्व वाले फ्यूचर ग्रुप के प्रमोटरों को कानूनी नोटिस भेजा था। अमेजन ने कहा कि फ्यूचर ग्रुप बिना अमेजन की इजाजत के रिलायंस के साथ अनुबंध नहीं कर सकता। बता दें कि अमेजन के अनुसार फ्यूचर ग्रुप ने रिलायंस के साथ डील में एक नॉन-कंप्लीट कॉन्ट्रैक्ट का उल्लंघन किया है। खबर है कि अमेजन फ्यूचर ग्रुप की रिलायंस केसाथ डील से परेशाानी में है। अमेजन के लिए इस डील के बाद प्रतियोगिता बढ़ जाएगी। मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस देश के आॅफलाइन रिटेल कारोबार में अपनी पकड़ और मजबूत करना चाहती है। अमेजन ने इससे पहले समारा कैपिटल इक्विटी फंड के साथ मिलकर साल 2018 में आदित्य बिड़ला ग्रुप की सुपरमार्केट चेन मोर का अधिग्रहण किया था।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular