Homeखास ख़बरक्या आईपीएल में एक संतुलित टीम चुनने में नाकाम रहते हैं विराट...

क्या आईपीएल में एक संतुलित टीम चुनने में नाकाम रहते हैं विराट कोहली

राजीव मिश्रा
क्रिकेट का सबसे बड़ा त्योहार ipl सीजन 13 …19  सितंबर से दुबई में शुरु होगा लेकिन उससे पहले  ये चर्चा फिर गर्म है  कि टूर्नामेंट  शुरू होने से पहले ही एक बार फिर विराट कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की गेंदबाजी कमजोर लग रही है। ये एक ऐसी परेशानी है जिसका इलाज अब खोजा भी नहीं जा सकता है। विराट कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाज डेल स्टेन पर दांव खेला। डेल स्टेन खतरनाक गेंदबाज हैं। बड़ी परेशानी ये है कि स्टेन फिट नहीं हैं। यही वजह है कि पिछले लंबे समय से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में उनका रूतबा कमजोर हुआ है। मार्च के बाद से उन्होंने कोई इंटरनेशनल मैच नहीं खेला है। 2014 के बाद से उन्होंने किसी भी साल में 10 से ज्यादा मैच नहीं खेले हैं। पिछले साल उन्होंने सिर्फ 2 मैच ही खेले थे। 2017-2018 में वो नहीं खेले थे। 2015 में उन्होंने 6 मैच में 3 विकेट ही लिए थे। हां, ये जरूर है कि इसी महीने की पहली तारीख को केपटाउन में खेले गए सुपर लीग मैच में उन्होंने 4 ओवर में सिर्फ 10 रन देकर 3 विकेट लिए थे। डेल स्टेन के इस प्रदर्शन की बदौलत ही उनकी टीम को जीत मिली थी और उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था। लिहाजा आरसीबी टीम में तेज गेंदबाजों में सबसे ज्यादा भरोसा डेल स्टेन पर करता दिख रहा है। डेल स्टेन के अलावा उनके पास केन रिचर्डसन, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव और नवदीप सैनी जैसे गेंदबाज हैं तो लेकिन इनके भरोसे टूर्नामेंट में खिताबी जीत मिलती नहीं दिखती। अब अगर इस सीजन के लिए लगी बोली का आंकलन किया जाए तो ये भी लगता है कि आरसीबी ने क्रिस मॉरिस पर दस करोड़ कुछ ज्यादा ही खर्च कर दिए। क्योंकि इसके बाद उनके पास अपने पसंदीदा खिलाड़ियों को लेने में दिक्कत दिखी। खास तौर पर तेज गेंदबाज।
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को बड़ी दिक्कत ‘डेथ ओवर्स’ में आने वाली है। क्योंकि ‘डेथ ओवर्स’ में रन रोकने की काबिलियत वाले गेंदबाज उनके स्कवायड में नहीं दिख रहे हैं। यही वजह है कि मुकाबलों के शुरू होने से पहले ही आरसीबी की टीम की गेंदबाजी संतुलित नहीं दिख रही है। विराट कोहली के लिए ये झटका इसलिए है क्योंकि उनकी कप्तानी में अब तक आईपीएल में आरसीबी का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पिछले सीजन में 8वीं पायदान की टीम थी। 2016 के बाद से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर कभी टॉप पांच टीमों में भी नहीं रही। ऐसे में आईपीएल के 2020 सीजन में विराट की कप्तानी में आरसीबी कोई बड़ा उलटफेर करेगी। ऐसा कम से कम टीम के संतुलन को देखकर नहीं लग रहा है।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular