Homeकाम की बातमनी प्लांट घर में रखते समय रखें सावधानियां

मनी प्लांट घर में रखते समय रखें सावधानियां

आज समाज डिजिटल, अम्बाला: 
वास्तु शास्त्र में मनी प्लांट का काफी अधिक महत्व है। माना जाता है कि जिस घर में मनी प्लांट सही दिशा में रखा हो तो वहां पर सकारात्मक ऊर्जा की कमी नहीं होती है। इसके साथ ही वहां रहने वाले हर सदस्य के जीवन में पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है। नौकरी, बिजनेस में लाभ मिलने के साथ-साथ आर्थिक तंगी का कभी भी सामना नहीं करना पड़ता है। वास्तु शास्त्र के मुताबिक, मनी प्लांट कुबेर और बुध ग्रह से संबंधित है।

सुख-समृद्धि की प्राप्ति 

इसी कारण इसे घर में लगाने से सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। वास्तु में मनी प्लांट संबंधी कई नियम बताए गए हैं जिनका जरूर पालन करना चाहिए। इसके अलावा मनी प्लांट से जुड़ा एक उपाय और बताया गया है। माना जाता है कि इस उपाय को करने से घर में बरकत आती है। जानिए मनी प्लांट संबंधी वास्तु के इस उपाय के बारे में।

मनी प्लांट और दूध का उपयोग

वास्तु के अनुसार, मनी प्लांट में दूध डालना काफी शुभ माना जाता है। क्योंकि मां लक्ष्मी को दूध सबसे अधिक पसंद है। ऐसे में अगर दूध की कुछ मात्रा मनी प्लांट डाली जाए तो जैसे-जैसे उसकी ग्रोथ होगी। वैसे-वैसे ही व्यक्ति की आमदनी भी बढ़ेगी। इसके साथ ही जिस घर में इस उपाय का इस्तेमाल किया जाएगा वहां पर रहने वाले हर एक सदस्य की किस्मत साथ देगी। वास्तु शास्त्र के मुताबिक, मनी प्लांट में जो आप पानी डालते हैं उसमें कुछ बूंदें कच्चाे दूध की डाल लें। ऐसे में जैसे ही मनी प्लांट की ग्रोथ होगी वैसे ही मां लक्ष्मी की कृपा आपके ऊपर बनी रहेगी।

मनी प्लांट को रखें सही दिशा में

वास्तु के अनुसार, मनी प्लांट को सही दिशा में रहना बेहद जरूरी है। ऐसे में मनी प्लांट तो दक्षिण-पूर्व यानी आग्नेय कोण में रखना शुभ माना जाता है। इस दिशा में रखने से आर्थिक स्थिति सही होती है।

मनी प्लांट संबंधी ये बात रखें ध्यान

  1. वास्तु के अनुसार, मनी प्लांट को धन वृद्धि का सहायक के रूप में माना जाता है। इसलिए कभी भी घर के बाहर मनी प्लांट नहीं लगाना चाहिए। इसे बुरी नजर लगने से ये जल्द सुख सकता है।
  2. मनी प्लांट की शाखाएं तेजी से बढ़ती है। इस बात का ध्यान रखें कि यह जमीन में न फैले बल्कि ऊपर की ओर फैला दें। माना जाता है कि जमीन में मनी प्लांट की बेल फैलने से अशुभ प्रभाव पड़ता है।

Read Also : अक्षय तृतीया: शुभ मुहूर्त और शुभ कार्य Good Luck And Good Work

Read Also : सात मोक्षदायी शहरों को कहते है सप्तपुरी Cities Are Called Saptapuri

Read Also : पूर्वजो की आत्मा की शांति के लिए फल्गू तीर्थ  

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular