Rahul is in front of Wayanad and three more Gandhi: वायनाड में राहुल सामने हैं तीन और गांधी

  • By
  • Admin
  • |
  • Published
  • :
  • April 9, 2019,
  • 6:35 am
  • |
  • Updated
  • :
  • April 9, 2019,
  • 6:35 AM

अंबाला। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वायनाड लोकसभा क्षेत्र से अपना पर्चा दाखिल किया है। इस सीट को जीतना हालांकि राहुल गांधी के बहुत मुश्किल नहीं है, क्योंकि यह सीट कांग्रेस की सबसे सुरक्षित माने जाने वाली सीट है। पर राहुल गांधी को वायनाड सीट पर कुछ ऐसे लोगों से चुनौती मिल रही है जो उनके ही हम नाम हैं।
दरअसल राहुल गांधी को केरल के वायनाड लोकसभा क्षेत्र में तीन ऐसे लोगों से चुनौती मिलेगी, जिनके नाम उनके नाम और उपनाम से मिलते जुलते हैं। यहा उनका मुकाबला मुख्य प्रतिद्वंद्वियों के अलावा दो हमनाम और एक उनके उपनाम से मेल खाते उम्मीदवार से होगा।
लोकसभा चुनाव के लिए केरल में नामांकन वापस लेने का अंतिम दिन सोमवार को था। प्रदेश के सभी 20 लोकसभा सीटों के लिए मतदान 23 अप्रैल को होगा। राहुल गांधी के खिलाफ वायनाड में चुनाव मैदान में कोट्टायम जिले से आने वाले निर्दलीय उम्मीदवार के.ई. राहुल गांधी (33) और अगीला इंडिया मक्कल कझगम पार्टी के सदस्य कोयंबतूर के के. राहुल गांधी (30) हैं। वहीं, तीसरे उम्मीदवार त्रिसूर के के. एम. शिवप्रसाद गांधी (40) हैं जो निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में वायनाड से चुनाव मैदान में हैं।
उम्मीदवारों द्वारा दाखिल हलफनामे के अनुसार, के. ई. राहुल गांधी भाषा विज्ञान में एमफिल हैं और एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं, जिनके पास खुद पैनकार्ड नहीं है, लेकिन उनकी गृहणी पत्नी के पास पैन है। दोनों के पास कोई देनदारी नहीं है। उनके पास नकद 5,000 रुपये और बैंकों में 515 रुपये हैं। इनके पास कोई अचल संपत्ति नहीं है।
वहीं, के. राहुल गांधी संवाददाता हैं और उनकी पत्नी दंत तकनीशियन हैं। दोनों आयकरदाता हैं और उन्होंने वर्ष 2018-19 के लिए जो रिटर्न दाखिल किए हैं उसमें उनकी कुल आय 1,99,000 रुपये और पत्नी की आय 2,000,000 रुपये दिखाई गई है। उनके पास 1,45,000 रुपये की देनदारी है।
इसके अलावा के.एम. शिवा प्रसाद गांधी संस्कृत के शिक्षक हैं और उनकी पत्नी कंप्यूटर आॅपरेटर। दोनोें आयकरदाता हैं और वे संपत्ति के स्वामी हैं और उनके पास देनदारी भी है।