Home टॉप न्यूज़ Whenever there is a terrorist attack in India, Pakistan should be scared – Air Force Chief : जब भी भारत में आतंकी हमला होता है तो पाकिस्तान को डरना चाहिए-वायुसेना प्रमुख एस. भदौरिया

Whenever there is a terrorist attack in India, Pakistan should be scared – Air Force Chief : जब भी भारत में आतंकी हमला होता है तो पाकिस्तान को डरना चाहिए-वायुसेना प्रमुख एस. भदौरिया

0 second read
0
0
44

नई दिल्ली। भारत ने जम्मू-कश्मीर में बढ़ रहे आतंकियों को जड़ से खत्म कर ने का निर्णय लिया है। भारतीय सेनाएं लगातार कई आपरेशनस को अंजाम दे रहीं हैं और हाल ही मेंभारतीय सैनिकों नेकई बड़े आतंकियों को घाटी में मार गिराया है। जिससे आतंकवाद की कमर टूट गई है। सोमवार को वायुसेना चीफ आरकेएस भदौरिया ने कहा कि जब भी भारतीय धरती पर आतंकी हमला होता है पाकिस्तान को डरना चाहिए और अगर वे इस चिंता से बाहर निकलना चाहता है तो उसे भारत के खिलाफ आतंकवाद को उकसाने से बाज आना चाहिए। उन्होंने यह बातें समाचार एजेंसी के साथ बातचीत में कहीं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले आतंकी कैम्पों पर कार्रवाई की जरूरत होती है तो वायुसेना 24 बाई 7 तैयार है। हंदवाड़ा हमले के बाद भारत की सीमा के पास आसमान में पाकिस्तान की तरफ से गतिविधियां तेज करने के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में भदौरिया ने कहा, जब भी हमारी धरती पर आतंकी हमला होता है, पाकिस्तान को चिंता होनी चाहिए। अगर वे इस चिंता से बाहर निकलना चाहता है तो उसे भारत में आतंकवाद को उकसाने से रोकना होगा। वायुसेना अध्यक्ष ने लद्दाख में चीन की ओरे सेअतिक्रमण पर उत्तर दिया कि कुछ गतिविधियों को नोटिस किया गया है जो साधारण नहीं हो सकता था। जब भी कुछ ऐसी चीजें होती हैं हमें उस पर करीब से निगाह रखनी होती है और आवश्यक कार्रवाई करनी पड़ती है। इन मुद्दों पर अनावश्यक चिंता का कोई कारण नहीं है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In टॉप न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Minorities are not getting relief in Pakistan, forcible conversion of Hindu girls continuously: पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों को नहीं मिल रही राहत, लगातार हिंदू लड़कियों का जबरन धर्मांतरण, शिकायत करनेवालों का पुलिस भी कर रही प्रताड़ित

खमीरपुर। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की सुनने वाला कोई नहीं है। पाकिस्तान से अक्सर हिंदुओं …