Home राज्य दिल्ली Nirbhaya’s mother Asha Devi said this when the curative petition of the culprits was rejected ….निर्भया की मां आशा देवी ने दोषियों की क्यूरेटिव याचिका खारिज होने पर कही ये बात….

Nirbhaya’s mother Asha Devi said this when the curative petition of the culprits was rejected ….निर्भया की मां आशा देवी ने दोषियों की क्यूरेटिव याचिका खारिज होने पर कही ये बात….

0 second read
0
0
175

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज निर्भया गैंगरेप के दोषी विनय कुमार शर्मा और मुकेश सिंह की क्यूरेटिव याचिका को खारिज कर दिया। जिसके बाद यह तय हो गया है कि निर्भया के दोषियों को अब फांसी के फंदे पर जूझना ही पड़ेगा। निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में दोषी विनय और मुकेश की याचिका पर जस्टिस एनवी रमन्ना की अगुवाई वाली पांच सदस्यीय सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने सुनवाई की। इस बेंच में जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस आरएफ नरीमन, जस्टिस आर भानुमती और जस्टिस अशोक भूषण शामिल थे। उन्होंने क्यूरेटिव याचिका खारिज कर दी। क्यूरेटिव पेटिशन सुप्रीम कोर्ट की तरफ से खारिज होने के बाद निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि ये दिन उनके लिए बहुत बड़ा है। उन्होंने कहा कि यह दिन मेरे लिए बहुत बड़ा है। मैं पिछले सात वर्षों से संघर्ष कर रहा था लेकिन सबसे बड़ा दिन 22 जनवरी का होगा जब दोषी फांसी पर लटकाए जाएंगे।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

14-year-old Adin Sulemanali wins Aeroflot International Chess by defeating Giants: दिग्गजों को पीछे छोड़ 14 वर्षीय अदिन सुलेमानली ने जीता ऐरोफ़्लोट इंटरनेशनल शतरंज

मॉस्को (रूस)। अजरबैजान के 14 वर्षीय अदिन सुलेमानली ने इतिहास रचते हुए सबसे कम उम्र मे ऐरोफ़…