Home खेल क्रिकेट Team India’s fast bowlers dismissed the entire team: टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने की पूरी टीम आउट

Team India’s fast bowlers dismissed the entire team: टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने की पूरी टीम आउट

2 second read
0
0
74

कोलकाता। भारत और बांग्लादेश के बीच खेले जा रहे पिंक बॉल टेस्ट मैच को पहले ही दिन भारतीय तेज गेंदबाजों ने यादगार बना दिया। इशांत शर्मा, उमेश यादव और मोहम्मद शमी ने मिलकर बांग्लादेश की पूरी टीम को पवेलियन का रास्ता दिखाया। भारतीय सरजमीं पर टेस्ट इतिहास में यह महज चौथा मौका है, जब तेज गेंदबाजों ने विरोधी टीम को आॅलआउट किया। टॉस जीतकर बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। भारत की धारदार गेंदबाजी के आगे पूरी टीम महज 106 रन पर ढेर हो गई। टीम इंडिया के अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने 5 विकेट झटकर इतिहास रच दिया। वह पिंक बॉल से 5 विकेट हासिल करने वाले पहले गेंदबाज बने। उमेश यादव ने तीन जबकि शमी ने दो विकेट चटकाए।
बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता डे नाइट टेस्ट में तेज गेंदबाजों का बोलबाला रहा। 30.3 ओवर में से 29.3 ओवर इशांत, उमेश और शमी ने डाले। कप्तान विराट कोहली ने सिर्फ एक स्पिनर रविंद्र जडेजा का प्रयोग किया। जडेजा ने सिर्फ 1 ओवर गेंदबाजी की। इशांत ने 12 ओवर में 22 रन देकर पांच विकेट हासिल किए। उमेश ने 7 ओवर में तीन विकेट चटकाए जबकि शमी ने 10.3 ओवर में 2 विकेट अपने नाम किए। बांग्लादेश के 10 विकेट तीनों तेज गेंदबाजों के नाम रहे। यह महज चौथी बार है जब भारत में टेस्ट मैच खेलते हुए टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने सभी 10 विकेट हासिल किए हैं। इससे पहले मुंबई में साल 1981-82 में इंग्लैंड की पूरी टीम को तेज गेंदबाजों ने आउट कर वापस भेजा था। साल 1983-84 में अहमदाबाद टेस्ट में वेस्टइंडीज को तेज गेंदबाजों ने आॅलआउट किया था। साल 2017-18 में कोलकाता में खेल गए टेस्ट में श्रीलंका के खिलाफ भी तेज गेंदबाजों ने यह कमाल किया था।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In क्रिकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Jamia Milia Islamia declared a holiday till 5 January, all examinations postponed: जामिया मिल्लिया इस्लामिया में 5 जनवरी तक अवकाश घोषित, सभी परीक्षाएं स्थगित

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विश्वविद्यालय में जारी प्रदर्शन के मद्देनजर जामि…