Home खेल क्रिकेट Pink ball test match, first day: गुलाबी गेंद का टेस्ट मैच, पहला दिन

Pink ball test match, first day: गुलाबी गेंद का टेस्ट मैच, पहला दिन

1 second read
0
0
53

कोलकाता। भारत और बांग्लादेश के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेला जा रहा है। यह दोनों टीमों के बीच ऐतिहासिक मुकाबला भी है क्योंकि दोनों टीमें पहली बार पिंक बाल (गुलाबी गेंद) के साथ डे नाइट टेस्ट खेल रही हैं। बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। भारतीय गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के आगे मेहमान टीम ज्यादा देर तक टिक नहीं पाई और पहली पारी में 106 रन पर सिमट गई। बांग्लादेश टीम के चार खिलाड़ी जीरो जबकि दो खिलाड़ी 1-1 रन बनाकर पवेलियन लौटे। टीम इंडिया ने इस दिवा रात्रि मैच में कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा के अर्द्धशतकों की बदौलत बांग्लादेश से पहली पारी के आधार पर बढ़त हासिल कर ली। खबर लिखे जाने तक पुजारा 55 रन बनाकर तीसरे विकेट के लिए आउट हो चुके थे जबकि कोहली का साथ निभाने रहाणे मैदान पर उतर चुके थे। इससे पहले भारत ने अपने दोनों ओपनर 43 रन के स्कोर तक आते आते गंवा दिए थे। मयंक अग्रवाल 14 और रोहित शर्मा 21 रन बनाकर आउट हुए।
इशांत शर्मा (22 रन पर 5 विकेट) के करिश्माई प्रदर्शन के बाद उमेश यादव (3 विकेट) और मोहम्मद शमी (2 विकेट) की घातक गेंदबाजी के सामने बांग्लादेश की टीम भारत के खिलाफ ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच के पहले दिन लंच के बाद 30.3 ओवर में मात्र 106 रन पर ढेर हो गई। इशांत ने 12 साल में पहली बार 5 विकेट हासिल किए हैं। बांग्लादेश ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जो सिरे से गलत साबित हुआ। मेहमान टीम ने लंच तक 21.4 ओवर में मात्र 73 रन जोड़कर 6 विकेट और अगले सत्र में शेष 4 विकेट 33 रन जोड़कर गंवा दिए। 31 वर्षीय इशांत ने अपने करियर में 10वीं बार पारी में 5 विकेट हासिल किए और 96 टेस्टों में उनके 288 विकेट हो गए हैं। भारतीय तेज गेंदबाज तिकड़ी ने बांग्लादेशी बल्लेबाजों को टिकने का कोई मौका नहीं दिया। मेहमान टीम के ओपनर शादमन इस्लाम 29, लिट्टन दास 24 रिटायर्ड हर्ट और नईम हसन 19 रन बनाकर दहाई की संख्या में पहुंचने वाले तीन बल्लेबाज रहे। बांग्लादेश के 4 बल्लेबाजों का खाता तक नहीं खुला।
मेहमान टीम की शुरूआत काफी खराब रही और केवल 38 रन पर उसने अपने पांच विकेट गंवा दिए। सलामी बल्लेबाज शादमान इस्लाम ने पहले विकेट के लिए इमरूल काएस के साथ केवल 15 रन जोड़े थे कि इमरूल को ईशांत ने पगबाधा कर सातवें ओवर की तीसरी गेंद पर ही भारत को गुलाबी गेंद से उसका पहला विकेट दिला दिया। कप्तान मोमिनुल हक को उमेश ने रोहित शर्मा के हाथों कैच कराया और खाता खोले बिना ही बांग्लादेशी कप्तान पवेलियन लौट गए। मोहम्मद मिथुन भी 7 गेंद तक ही टिकने का जज्बा दिखा सके और उमेश ने उन्हें बोल्ड किया। मिथुन भी शून्य पर आउट हुए। इसके बाद मुशफिकुर रहीम का भी यही हश्र हुआ और मोहम्मद शमी ने उन्हें बोल्ड कर घरेलू मैदान पर अपना पहला गुलाबी विकेट लिया और भारत को उसका चौथा विकेट दिला दिया। रहीम चार गेंदों में 0 पर आउट हुए। बांग्लादेशी सलामी बल्लेबाज शादमान का धैर्य भी टूट गया, जिन्होंने 52 गेंदों में 5 चौके लगाकर 29 रन बनाए, जो लंच तक टीम का सबसे बड़ा स्कोर भी रहा। शादमान को भी उमेश ने आउट किया और स्टम्प्स के पीछे विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों उन्हें कैच कराया। एकतरफा से लग रहे इस मुकाबले में मेहमान टीम ने 15वें ओवर की दूसरी गेंद पर 38 रन जोड़कर अपने 5 विकेट गंवा दिए।
लंच से पूर्व महमूदुल्लाह 6 रन बनाकर ईशांत की गेंद पर साहा को कैच दे बैठे और मेहमान टीम का छठा विकेट भी गिर गया। महमूदुल्लाह ने 21 गेंदों में एक चौका लगाया। लंच के बाद बांग्लादेश की पारी को सिमटने में अधिक समय नहीं लगा। लंच से पहले के आखिरी ओवर में लिट्टन दास रिटायर्ड हर्ट हो गए। उन्होंने 27 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 24 रन बनाए। ईशांत ने लंच के बाद तीन विकेट निकाले और शमी ने एक विकेट लिया। नईम 19, इबादत हुसैन 1, मेहदी हसन 8 रन जबकि अबु जाएद खाता खोले बिना पैवेलियन लौट गए। गुलाबी गेंद के सामने बांग्लादेशी बल्लेबाजों को जैसे सांप सूंघ गया और ईडन गार्डन मैदान पर उन्होंने समर्पण कर दिया। भारतीय तेज गेंदबाजों के दबदबे का आलम यह था कि टीम इंडिया के दोनों स्पिनरों को कुछ भी करने का मौका नहीं मिला। जडेजा ने एक ओवर फेंका जबकि अश्विन खाली क्षेत्ररक्षण करते रह गए।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In क्रिकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Jamia Milia Islamia declared a holiday till 5 January, all examinations postponed: जामिया मिल्लिया इस्लामिया में 5 जनवरी तक अवकाश घोषित, सभी परीक्षाएं स्थगित

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विश्वविद्यालय में जारी प्रदर्शन के मद्देनजर जामि…