Home खेल क्रिकेट Madan Lal-Gautam Gambhir soon to be a member of BCCI’s Cricket Advisory Committee: मदन लाल-गौतम गंभीर जल्द बनेंगे बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य

Madan Lal-Gautam Gambhir soon to be a member of BCCI’s Cricket Advisory Committee: मदन लाल-गौतम गंभीर जल्द बनेंगे बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य

0 second read
0
0
133

नई दिल्ली। विश्व कप विजेता पूर्व भारतीय खिलाड़ी मदन लाल और गौतम गंभीर का बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का सदस्य बनना लगभग तय हो गया है, जो 2020 से चार साल के कार्यकाल के दौरान चयन समितियों को चुनेगी। समिति में भारतीय महिला टीम की पूर्व खिलाड़ी सुलक्षणा नाइक तीसरी सदस्य हो सकती हैं। मुंबई की नाइक ने दो टेस्ट और 46 एकदिवसीय में भारत का प्रतिनिधित्व किया है।
बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर बताया, मदन लाल और गौतम गंभीर का सीएसी सदस्य बनना लगभग तय है। भारत को 1983 विश्व कप विजेता बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले मदन लाल सबसे वरिष्ठ सदस्य होने के नाते इस समिति के प्रमुख होंगे जबकि 2011 में टीम को विश्व विजेता बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले गंभीर और तीसरे सदस्य उनके सहायक होंगे।
मदन लाल से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मुझे नहीं पता कि मेरे लिये इस पर आधिकारिक प्रतिक्रिया देना सही होगा या नहीं क्योंकि बीसीसीआई ने अभी घोषणा नहीं की है। मदन लाल ने भारत के लिए 1974 से 1987 तक 39 टेस्ट और 67 एकदिवसीय खेले हैं जिसमें विश्व कप के फाइनल में तीन विकेट चटकाना उनके करियर का सबसे यादगार प्रदर्शन है। मदन लाल का विशेषज्ञ के तौर पर एक टेलीविजन चैनल के साथ करार है ऐसे में हितों के टकराव के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, पहले मुझे नियुक्ति पत्र तो मिलने दीजिए। जाहिर है वहां स्पष्ट रूप से दिशानिर्देशों की शर्तें होंगी। सूत्र से जब इस पद के लिए मदन लाल की सहमति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, हां, उन्होंने मदन लाल से इसकी मंजूरी मांगी थी और उन्होंने कहा कि सीएसी में होना उनके लिए गर्व की बात होगी। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि उन्हें एक बैठक करनी होगी या एक भी नहीं।
समिति के महज एक बार बैठक करने की संभावना है क्योंकि सीनियर चयन समिति में कार्यकाल पूरा कर चुके दो सदस्यों की जगह लेने वालों को चुनना होगा। समिति को निवर्तमान अध्यक्ष एमएसके प्रसाद (दक्षिण क्षेत्र) और गगन खोड़ा (मध्य क्षेत्र) के विकल्प को तलाशना होगा। सरनदीप सिंह (उत्तर), देवांग गांधी (पूर्व) और जतिन परांजपे (पश्चिम) के चार साल के कार्यकाल में अभी एक साल बाकी है। जूनियर चयन पैनल में भी बदलाव होंगे।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In क्रिकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Nirbhaya gang rape case: Third death warrant issued for the culprits, will be hanged at 3 am on March 3: निर्भया गैंगरेप मामला-दोषियों के लिए जारी हुआ तीसरा डेथ वारंट, 3 मार्च को सुबह छह बजे होगी फांसी

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप और हत्याकांड के चारों दोषियों को सुप्रीम कोर्ट से फांसी की सजा …