Home खेल क्रिकेट IPL-2020 may be held in empty stadiums: Saurabh Ganguly: खाली स्टेडियमों में हो सकता है आईपीएल-2020 : सौरभ गांगुली

IPL-2020 may be held in empty stadiums: Saurabh Ganguly: खाली स्टेडियमों में हो सकता है आईपीएल-2020 : सौरभ गांगुली

5 second read
0
0
120

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने संकेत दिए हैं कि इस साल के इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन खाली स्टेडियमों में किया जा सकता है। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 महामारी के बावजूद इस निलंबित टूर्नामेंट को आयोजित करने के लिए सभी विकल्पों पर विचार किया जा रहा है। गांगुली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद् (आईसीसी) के बोर्ड की बैठक के बाद राज्य संघों को यह पत्र भेजा है, जिससे लगता है कि बीसीसीआई अध्यक्ष आईपीएल के आयोजन के प्रति आशान्वित हैं।
भारत में कोविड-19 महामारी के कारण अभी तक 8000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और इसी वजह से आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था। गांगुली ने लिखा है, बीसीसीआई इस साल आईपीएल के आयोजन के लिए सभी संभावित विकल्पों पर काम कर रहा है, जिसमें खाली स्टेडियमों में खेलना भी शामिल है। उन्होंने कहा, प्रशंसक, फ्रैंचाइजी, खिलाड़ी, प्रसारक, प्रायोजक और सभी हितधारक इस साल आईपीएल के आयोजन की संभावना को लेकर उत्सुक हैं।
पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, हाल में भारत और आईपीएल में भाग लेने वाले अन्य देशों के खिलाड़ियों ने इस साल के आईपीएल का हिस्सा बनने के प्रति अपनी उत्सुकता दिखायी। हम आईपीएल के आयोजन को लेकर आशावादी हैं और बीसीसीआई जल्द ही इस बारे में कोई फैसला करेगा। कयास लगाए जा रहे हैं कि अगर टी20 विश्व कप आॅस्ट्रेलिया में पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नहीं हो पाता है तो आईपीएल उस समय आयोजित किया जा सकता है।
आईसीसी ने विश्व कप के भविष्य पर फैसला अगले महीने तक टाल दिया है। गांगुली ने इसके साथ ही कहा कि बीसीसीआई घरेलू क्रिकेट के कार्यक्रम पर भी काम रहा है, जिससे रणजी ट्रॉफी, दलीप ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी जैसे टूर्नामेंट प्रतिस्पर्धी और व्यावहारिक बने रहें। उन्होंने कहा, बीसीसीआई अगले क्रिकेट सत्र के लिए घरेलू प्रतियोगिताओं के लिए योजना तैयार करने की प्रक्रिया में है। हम अपनी तरफ से विभिन्न विकल्पों और प्रारूपों पर काम कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि विभिन्न घरेलू टूर्नामेंट प्रतिस्पर्धी बने रहें और उनमें भागीदारी आसान रहे।
गांगुली ने कहा, बीसीसीआई अगले दो सप्ताह में इस पर और जानकारी उपलब्ध कराएगा। बोर्ड अध्यक्ष ने इसके साथ ही सूचित किया कि बीसीसीआई सभी राज्य इकाईयों में क्रिकेट की बहाली के लिए मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार कर रहा है ताकि इनमें शामिल लोगों की चिकित्सा सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके। गांगुली ने राज्य संघों को बताया कि बीसीसीआई ने अपने विभिन्न सदस्यों की सभी तरह की धनराशि-अनुदान जारी करने के लिए अपनी तरफ से हर संभव प्रयास किए है। उन्होंने कहा, जिन संघों ने अपने खातों और धनराशि के उपयोग से संबंधित प्रमाणपत्रों को उचित तरीके से पेश किया है, उन्हें पहले ही अनुदान मिल चुका है। बोर्ड अध्यक्ष ने आश्वासन दिया कि अन्य इकाइयां जब भी संबंधित दस्तावेज जमा करेंगी, उन्हें उनका अनुदान मिल जाएगा।
क्रिकेट फैंस को मायूस नहीं होने देगा बीसीसीआई
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद् (आईसीसी) टी-20 वर्ल्ड कप के भाग्य का फैसला अब तक नहीं कर पाई है, तो भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस साल आईपीएल की मेजबानी के लिए अपनी उम्मीद नहीं छोड़ी है और वह हरसंभव कोशिश कर रहा है। इस साल अक्टूबर-नवंबर में निर्धारित टी-20 वर्ल्ड कप पर आईसीसी कोई फैसला नहीं ले पाई है। आईसीसी बोर्ड की बुधवार को टेलिकॉन्फ्रेंस के जरिए हुई बैठक में मौजूदा टी-20 वर्ल्ड कप पर अगले महीने तक फैसला टाल दिया गया।
बीसीसीआई अपने होम सीजन और आईपीएल की योजना के बारे में कुछ स्पष्टता पाने के लिए आईसीसी की 10 जून की बैठक का इंतजार कर रहा था। इधर, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने राज्य संघों को पत्र लिखकर कहा कि वे आईपीएल के भविष्य को लेकर जल्दी ही फैसला करेंगे। खाली स्टेडियम में ही सही, बीसीसीआई इस टी-20 टूर्नामेंट की मेजबानी करने के लिए तैयार है। इस साल आईपीएल की मेजबानी की संभावना से जुड़े गांगुली के पत्र के मुताबिक, बीसीसीआई यह सुनिश्चित करने के लिए सभी संभावित विकल्पों पर काम कर रहा है, ताकि इस साल आईपीएल कराया जा सके। भले ही यह टूर्नामेंट खाली स्टेडियम में कराना पड़े। प्रशंसक, फ्रेंचाइजी, खिलाड़ी, प्रसारणकर्ता, प्रायोजक और अन्य सभी हितधारक इस दिशा में उत्सुकता से देख रहे हैं।
पत्र के अनुसार, हाल ही में आईपीएल में भाग लेने वाले भारत और अन्य देशों के कई खिलाड़ियों ने भी इस साल के आईपीएल का हिस्सा बनने के लिए अपनी उत्सुकता दिखाई है। हम आशावादी हैं और बीसीसीआई जल्द ही इसके भविष्य को लेकर फैसला करेगा। यह भी कहा गया है कि बीसीसीआई भारत में क्रिकेट को फिर से शुरू करने के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) लाने की तैयारी में है। हालांकि पदाधिकारी इसे अंतिम रूप नहीं दे पाए हैं। एसओपी का लक्ष्य मुख्य रूप से स्थानीय स्तर पर क्रिकेट को फिर से शुरू करना है। पत्र में आगे लिखा गया है, यह एसओपी सभी संघों को अपने संबंधित क्षेत्रों में क्रिकेट को फिर से शुरू करने में मदद करेगा। बीसीसीआई ने इस एसओपी को तैयार करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों को लगाया है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In क्रिकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Property dealer murdered in Ludhiana, body found in office: लुधियाना में प्रॉपर्टी डीलर का कत्ल, ऑफिस से मिला शव

अरुण कुमार। लुधियाना, 11 जुलाई: लुधियाना के पॉश एरिया मल्हार रोड पर देर शाम एक प्रॉपर्टी ड…