Home राजनीति People ruled in the name of Mahatma Gandhi but nothing for the country: Jitendra Singh: महात्मा गांधी के नाम पर लोगों ने राज तो किया लेकिन देश के लिए कुछ नहीं: जितेंद्र सिंह

People ruled in the name of Mahatma Gandhi but nothing for the country: Jitendra Singh: महात्मा गांधी के नाम पर लोगों ने राज तो किया लेकिन देश के लिए कुछ नहीं: जितेंद्र सिंह

1 second read
0
0
122

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गांधी के विचारों को अपनाने और उसे लोगों तक पहुंचाने का श्रेय दिया. दिल्ली के राजघाट स्थित गांधी दर्शन में गांधी के 150वीं जयंती के साल में केंद्रीय भंडार द्वारा कराए गए महात्मा गांधी-खाने के साथ प्रयोग (स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण) कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछले 70 सालों में अगर किसी ने गांधी के प्रयोगों को लोगों तक पहुंचाया तो वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है.डॉ. जितेंद्र सिंह ने महात्मा गांधी के जन्म के 150 साल पूरे होने पर केंद्रीय भंडार की एक विशेष पहल शुरू की. आने वाले दिनों में केंद्रीय भंडार स्वच्छता, स्वदेशी, सर्वोदय और संरक्षण जैसे विषयों पर कार्यक्रम करेगा.

केंद्रीय मंत्री ने गांधी परिवार का नाम लिए बिना निशाना साधते हुए कहा कि महात्मा गांधी के नाम पर लोगों ने राज तो किया लेकिन देश के लिए कुछ नहीं किया. उन्होंने कहा कि अगर देश का बंटवारा न होता तो आज जो स्थिति पैदा हो रही है वो न होती.जितेंद्र सिंह ने महात्मा गांधी को याद करते हुए कहा कि जो इंसान खुद से दूर होता चला जाएगा वो गांधी से भी दूर होता जाएगा. वो ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने अपने प्रयोगों की आलोचना का भी सम्मान किया. नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनके प्रयासों के तहत ही स्वच्छ भारत, शौचालय और योग लोगों तक पहुंचा है और इन सबके पीछे गांधी का विचार है, जिसे प्रधानमंत्री ने आगे बढ़ाया है. उन्होंने कहा कि भगवान भी यही चाहते थे कि गांधी के प्रयोगों को मोदी पूरा करें.

केंद्रीय भंडार के मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश कुमार ने कहा कि गांधी आज भी हम सबके लिए प्रासंगिक हैं. सबको एक साथ लेकर चलने के पीछे का विचार गांधी का ही है. उन्होंने कहा कि इस वर्ष केंद्रीय भंडार इस तरह के पांच कार्यक्रम करेगा जिसकी शुरुआत आज हुई है. गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया के एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर एके श्रीवास्तव ने कहा कि गांधी का विशाल व्यक्तित्व है जिसने पूरे विश्व को प्रभावित किया है. अच्छा खान-पान उनके जीवन का अहम हिस्सा रहा है. उन्होंने कहा कि गांधी ने अपनी आत्मकथा में लिखा भी है, ‘स्वाद का सच्चा स्थान जीभ नहीं मन होता है.’ सेंटर फॉर स्ट्रैटेजी एंड लीडरशिप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विकास शर्मा ने श्रृंखला की पहली घटना के विषय पर बात करते हुए कहा, ‘गांधी जी का जीवन एक सबक है और व्यक्ति को रोजमर्रा के जीवन में अपनी शिक्षाओं को अपनाना चाहिए, विशेषकर राष्ट्र के युवाओं को उनके आदर्शों के माध्यम से सबसे बड़ा अंतर लाया जा सकता है.’

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In राजनीति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

This is a long battle, neither tired nor lost – Prime Minister Modi: यह लंबी लड़ाई, न थकना है और न हारना है-प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली। आज भाजपा का चालीसवां स्थापना दिवस है जिसके अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने…