Home देश Pankaja Munde removed BJP’s tag from Twitter: पंकजा मुंडे ने ट्विटर से हटाया भाजपा का टैग

Pankaja Munde removed BJP’s tag from Twitter: पंकजा मुंडे ने ट्विटर से हटाया भाजपा का टैग

0 second read
0
0
19

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन टूटने के बाद शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाई है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में यह सरकार कामकाज शरुकर चुकी है। अब आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं कि गापीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा मुंडे भाजपा छोड़ने वाली हैं। बता दें कि पंकजा मुंडे को विधानसभा चुनाव में चचेरे भाई के हाथों हार मिली थी। बताया जा रहा है कि परली विधानसभा सीट चुनाव हारने के पीछे भितरघात की आशंकाएं बताई जा रहीं हैं। जिसके कारण पंकजा मुंडे भाजपा से नाराज बताई जा रहीं हैं। सोमवार को उन्होंने ट्विटर प्रोफाइल से ‘भाजपा’ का टैग हटा दिया और रविवार को लिखे एक फेसबुक पोस्ट से इस बात के संकेत मिले हैं। बता दें कि पंकजा ने पिता गोपीनाथ मुंडे की जयंती 12 दिसंबर को समर्थकों की एक बैठक बुलाई है, उम्मीद की जा रही है कि वह इस बैठक में बड़ा फैसला ले सकती हैं। समर्थकों का आरोप है कि ओबीसी वर्ग और पार्टी में नेतृत्व खत्म करने के लिए भाजपा के कुछ नेताओं ने ही पंकजा को चुनाव में हराया। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि हमारे संपर्क में अन्य कई नेता हैं। शिवसेना के विधायक अब्दुल सत्तार ने कहा कि 12 दिसंबर को पंकजा मुंडे तय करेगी कि वह आगे कहां जाएंगी। अगर वह शिवसेना में शामिल होती हैं, तो हम खुशी से उनका स्वागत करेंगे। स्वर्गीय गोपीनाथ जी और बालासाहेब जी के बीच काफी अच्छे संबंध थे। जबकि महाराष्ट्र भाजपा प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने सोमवार को कहा कि वह पार्टी छोड़ नहीं रही हैं। पाटिल ने यहां पत्रकारों से कहा, ” भाजपा के नेता, पंकजा मुंडे से संपर्क में हैं। वह हार के बाद आत्मनिरीक्षण कर रही हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह भाजपा छोड़ रही हैं। उन्होंने शिवसेना नेता संजय राउत के इस दावे को खारिज किया कि कई नेता उद्धव ठाकरे नीत पार्टी में शामिल होने के लिए उत्सुक हैं। पाटिल ने कहा, ” महाराष्ट्र में दुर्घटनावश बनी सरकार निराधार खबरें फैला रही है। उनके ठाकरे परिवार से अच्छे पारिवारिक रिश्ते हो सकते हैं, लेकिन इसका मतलब यह कतई नहीं है कि वह शिवसेना में शामिल होने जा रही हैं।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Nehru targeted on the pretext of political discussion: राजनीतिक चर्चा के बहाने नेहरू पर निशाना

आज के इस अति बुद्धिवादी दौर में अगर आप भावनाओं से जुड़े तथ्यों को रेखांकित करते हैं तो आप प…