Home खास ख़बर Amulya, who chanted slogans of Pakistan Zindabad, in 14 days judicial custody, father said – absolutely wrong: पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाली अमूल्या 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में, पिता बोले- बिल्कुल गलत किया

Amulya, who chanted slogans of Pakistan Zindabad, in 14 days judicial custody, father said – absolutely wrong: पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाली अमूल्या 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में, पिता बोले- बिल्कुल गलत किया

2 second read
0
0
143

नई दिल्ली। बेंगलुरु में सीएए के खिलाफ चल रही ओवैसी की रैली में एक लड़की ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाली युवती अमूल्या लियोन के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अमूल्या ने गुरुवार को आॅल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की उपस्थिति में मंच से पाकिस्तान जिदंबाद के नारे लगाए। हालांकि बाद में अपने मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाए जाने की ओवैसी ने निंदा की थी। हालांकि अमूल्या के पिता ने भी अपनी बेटी की हरकत पर उसकी निंदा की और कहा कि उसने बिल्कुल गलत किया। मैंने उसे कई बार कहा कि वह मुसलमानों से न जुड़े, लेकिन उसने मेरी एक न सुनी। अपने मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे सुनकर असदुद्दीन ओवैसी भी हतप्रभ रह गए उन्होंने कहा मंच से ही कहा कि मैं उस लड़की के बयान की निंदा करता हूं। हमारे लिए भारत जिंदाबाद था, जिंदाबाद रहेगा। उन्होंने कहा कि हम भारत के लिए हैं और किसी भी तरह दुश्मन देश का समर्थन नहीं करते। ‘संविधान बचाओ’ बैनर तले कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसके आयोजकों ने ओवैसी के मंच पर पहुंचने के बाद अमूल्या को भीड़ को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया। अमूल्या ने वहां उपस्थित लोगों से अपने साथ ‘पाकिस्तान जिन्दाबाद’ का नारा लगाने को कहा। इस पर ओवैसी उससे माइक छीनने के लिए बढ़े और अन्य लोग भी युवती को हटाने की कोशिश करने लगे। लेकिन अमूल्या अड़ी रही और बार-बार दोहराते हुए ‘पाकिस्तान जिन्दाबाद’ कहा। बाद में पुलिस आगे बढ़ी और उसे मंच से हटा दिया। पाकिस्तान के पक्ष में नारे लगाने वाली लड़की के लिए ओवैसी ने कहा कि इससे हमारा कोई संबंध नहीं है और वह हमारी पार्टी की भी नहीं है। आयोजकों को उसे यहां नहीं बुलाना चाहिए था। यदि मुझे यह पता होता तो मैं यहां नहीं आता। हम भारत के लिए हैं और हम किसी भी तरह दुश्मन देश का समर्थन नहीं करते। हमारा पूरा आंदोलन भारत को बचाने के लिए है। यहां तक कि कर्नाटक के मंत्री सीटी रवि ने भी घटना की निंदा की और कहा कि ‘देशद्रोहियों’ को क्षमा नहीं किया जाना चाहिए। उसके खिलाफ देशद्रोह का केस चलना चाहिए।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In खास ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Police and forensic team entered Marakj’s building, investigation for 6 hours: मरकज की बिल्डिंग में घुसी पुलिस व फोरेंसिक टीम, 6 घंटे तक की जांच

 नई दिल्ली। निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज को सैनिटाइज करने के बाद रविवार को पहली बार फोरे…