Home अर्थव्यवस्था Impact of lockdown: Paytm no longer charged on wallet payments to support shopkeepers: लॉकडाउन का प्रभाव: पेटीएम ने दुकानदारों को सहयोग देने के लिये अब वॉलट पेमेंट्स पर कोई चार्ज नहीं 

Impact of lockdown: Paytm no longer charged on wallet payments to support shopkeepers: लॉकडाउन का प्रभाव: पेटीएम ने दुकानदारों को सहयोग देने के लिये अब वॉलट पेमेंट्स पर कोई चार्ज नहीं 

4 second read
0
0
62

भारत के प्रमुख वित्तीय सेवा मंच पेटीएम ने आज घोषणा की है कि सभी मर्चेंट पार्टनर्स पेटीएम वॉलट, सभी यूपीआई आधारित पेमेंट एप्स और रूपे कार्ड्स के माध्यम से अपने बैंक खाते में शून्य शुल्क पर भुगतान स्वीकार करने के लिये पेटीएम आॅल-इन-वन क्यूआर का उपयोग कर सकते हैं। कंपनी ने कोविड-19 महामारी के दौरान 100 करोड़ रुपये अलग से रखे हैं, जिनका निवेश वित्तीय सेवाओं और मार्केटिंग के विभिन्न टूल्स की सुलभता के लिये किया जाएगा, ताकि मर्चेंट पार्टनर्स पेटीएम आॅल-इन-वन क्यूआर के माध्यम से डिजिटल भुगतान में बढ़ोतरी को गति देने के लिये प्रोत्साहित हो सकें। पेटीएम एमडीआर शुल्क का भार खुद वहन करेगा, जिसे बैंकों द्वारा वसूला जाता है और लॉयल्टी स्कीम बंद कर देगा।

पेटीएम के प्रवक्ता ने कहा, ह्यह्यहमारा लक्ष्य देश के लाखों छोटे व्यवसायों को अतिरिक्त शुल्क की चिंता किये बिना सभी स्रोतों से डिजिटल भुगतान स्वीकार करने में सहयोग देना है। हम बैंकों द्वारा लिया जाने वाला शुल्क का भार खुद वहन करेंगे और व्यापारियों को शून्य शुल्क पर भुगतान स्वीकार करने के लिये सक्षम बनायेंगे। हम उनके व्यवसाय के लिये भी कई लाभों की पेशकश करना जारी रखेंगे, जिनमें विभिन्न वित्तीय एवं व्यावसायिक सेवाएं शामिल हैं, जिनका उपयोग वे हमारे मंच पर करते हैं।ह्णह्ण

इस वर्ष की शुरूआत में लॉन्च किया गया पेटीएम आॅल-इन-वन क्यूआर एकमात्र निशुल्क क्यूआर है, जो पेटीएम वॉलट, सभी यूपीआई ऐप्स और रूपे कार्ड्स से भुगतान की अनुमति देता है। मर्चेंट पेटीएम फॉर बिजनेस ऐप को बड़ी आसानी से डाउनलोड करके इस क्यूआर की रोमांचकारी खूबियों – जैसे कि प्रत्यक्ष बैंक निपटान, एकल समाधान, और ऋण, बीमा आदि जैसे विविध कार्यों के लिए अनुरोध का प्रयोग कर सकते हैं।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In अर्थव्यवस्था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Vikas Dubey encounter will be investigated: विकास दुबे एनकाउंटर की होगी जांच, एसआईटी का गठन, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट

कानपुर। कानपुर के ईनामी बदमाश गैंगस्टर विकास दुबे का उज्जैन से यूपी लाते समय एनकाउंटर किया…