Homeराज्यउत्तर प्रदेशToll Tax Started on DME: डीएमई पर टोल शुरू : फास्ट टैग...

Toll Tax Started on DME: डीएमई पर टोल शुरू : फास्ट टैग में राशि नहीं होने पर दोगुनी वसूली होगी

वाहन स्वामी को घर पर भेजा जाएगा चालान

आज समाज डिजिटल, गाजियाबाद:

Toll Tax Started on DME: दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे (डीएमई) पर शुक्रवार की सुबह आठ बजे से टोल वसूली शुरू हो गई। हालांकि चिपियाना आरओबी का निर्माण अभी पूरा नहीं हुआ है। निर्माण कार्य के चलते बॉटलनेक की स्थिति बनी रहती है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने डीएमई बिना गति प्रभावित किए ऑटोमेटिक टोल वसूली सिस्टम लगाया है।

टोल वसूली की इस तकनीक वाला यह पहला एक्सप्रेस-वे है। एनएचएआई ने इसे एएनपीआर (आटोमेटिक नंबर प्लेट रिकगनिशन) कम (सह) फास्टैग बेस्ड मल्टी लेन फ्री फ्लो टोलिंग सिस्टम का नाम दिया है। इसे एनपीसीआई (भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम) से जोड़ा गया है।

टैक्स के भुगतान के लिए रुकना तो दूर गति कम करने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी

इस तकनीक का फायदा यह है कि डीएमई से गुजरने वाले वाहनों को टोल टैक्स के भुगतान के लिए रुकना तो दूर गति कम करने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। एक्सप्रेस-वे पर ऐसे कैमरे लगाए गए हैं जो सौ किमी की रफ्तार से दौड़ रहे वाहन की नंबर प्लेट का रीड कर सकेंगे। एनएचएआई के अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार को इस तकनीक से पहली बार टोल वसूली की शुरुआत हुई है।

डीएमई के मेन टोल प्लाजा, काशीपुर पर इसे पूरी तरह से लागू होने में कुछ समय लग सकता है। डीएमई काशीपुर मुख्य प्लाजा के साथ भोजपुर, रसूलपुर सिकरोड़ व डासना पर दोनों ओर दो-दो टोल बूथ बनाए गए हैं। डासना पर कर्मचारी तैनात नहीं किए गए हैं। यहां आटोमेटिक वसूली ही होगी, क्योंकि दिल्ली से डासना तक सफर करने वालों से टैक्स नहीं वसूला जाएगा। काशीपुर के साथ रसूलपुर सिकरोड़ व भोजपुर पर कर्मचारी तैनात हैं।

Read Also: HCU Application under CUET from Today: हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय सीयूईटी के अंतर्गत आवेदन आज से

डीएमई पर जाने वाले वाहन चालक फास्टैग में पर्याप्त बैलेंस रखें

एएनपीआर वाहन के प्रवेश और निकास का स्थान तय कर भुगतान के लिए डाटा एनपीसीआइ को भेजता है और फिर टोल टैक्स का भुगतान प्राप्त किया जाता है। यदि किसी वाहन पर वैद्य फास्ट टैग नहीं लगा है, या फिर उसमें राशि कम है तो वाहन स्वामी के घर टोल टैक्स की दोगुनी राशि का चालान पहुंचेगा। काशीपुर टोल प्लाजा पर पहुंचने वाले ऐसे वाहनों से टोल टैक्स की दोगुनी राश‌ि वसूल की जाएगी।

दिल्ली से डासना ‌तक डीएमई पर टोल देय नहीं होगा। हालांकि डासना से आगे यदि कोई वाहन डीएमई को इस्तेमाल करेगा तो टोल की वसूली उसके डीएमई में प्रवेश पाइंट से ही की जाएगी। एनएचएआई  के परियोजना निदेशक अरविंद कुमार का कहना है कि डीएमई पर जाने वाले सभी वाहन चालक फास्टैग में पर्याप्त बैलेंस रखें, नहीं तो दोगुना भुगतान करना पड़ेगा।

Read Also: ठगों की प्रलोभन भरी बातों में आकर न बताएं ओटीपी ओर निजी जानकारी Cyber C​crime in Digital World

Read Also: बैंकेट हॉल, होटलों इत्यादि में शादी व अन्य कार्यक्रमों के दौरान फायरिंग करने पर पूर्णत: प्रतिबंध :Ban On Firing During Marriage And Other Events

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular