HomeपंजाबUncategorizedScheduled Castes Seat Reducing in Bhiwani: नगर परिषद में अनुसूचित जाति की...

Scheduled Castes Seat Reducing in Bhiwani: नगर परिषद में अनुसूचित जाति की सीटें घटाने पर समाज के लोंगों में रोष

आज समाज डिजिटल, रोहतक:

Scheduled Castes Seat Reducing: भिवानी नगर परिषद में अनुसूचित जाति की सीटें 6 से घटाकर 5 किए जाने पर कबीर देव शिक्षा जागृति समिति ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के माध्यम से शहरी स्थानीय निकाय विभाग के निदेशक को ज्ञापन भेजा है। कबीर देव शिक्षा जागृति समिति के प्रधान भगवान दास कालिया के नेतृत्व में दिल्ली बाईपास स्थित रेस्ट हाउस में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धनखड़ से मुलाकात की।

Read Also: Omicron Variant Alert: अस्पतालों में बैड भरने से पहले हो जाएं अलर्ट : डॉ. अनिता सक्सेना

2011 की जनगणना के अनुसार अनुसूचित जाति की सीटें 6 थी अब की एक सीट घटा दी Scheduled Castes Seat Reducing in Bhiwani

भगवानदास कालिया ने ज्ञापन में बताया कि पिछली बार 2011 की जनगणना के अनुसार अनुसूचित जाति की सीटें 6 होती थी लेकिन अब की बार अनुसूचित जाति की जनसंख्या को कम दिखाकर एस.सी.की एक सीट घटा दी है जोकि पूरी तरह से गलत है।

वार्डबंदी के दौरान नगर परिषद के सभी वार्डों की जनगणना करवाई गई थी जिसमें कुल जनसंख्या भिवानी शहर की 2 लाख 49 हजार 998 तथा अनुसूचित जाति की 58 हजार 515 व पिछड़े वर्ग की जनसंख्या 86 हजार 590 और सामान्य वर्ग की जनसंख्या 1 लाख 22 हजार 894 दर्शाई गई है और भिवानी नगर परिषद के प्रस्ताव के अनुसार अनुसूचित जाति 6 वार्ड, बी.सी.दो वार्ड, अनुसूचित जाति महिला 2 वार्ड, सामान्य वर्ग के 23 वार्ड में से 9 सामान्य महिला का प्रस्ताव बनाकर भेजा गया लेकिन गलत आंकड़े पेश कर नगर परिषद भिवानी की अनुसूचित जाति की सीट को 6 मेंसे 5 कर दी गई है लेकिन जनसंख्या के आधार अनुसार 7 सीटें अनुसूचित जाति के आरक्षित वर्ग की बनती है।

Read Also: PM Kusum Yojana for Farmers: पीएम कुसुम योजना केंद्र व राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना

2015 में अनुसूचित जाति की जनसंख्या 42338 दर्शाई गई Scheduled Castes Seat Reducing in Bhiwani

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धनखड़ को बताया कि 2015 में अनुसूचित जाति की जनसंख्या 42338 दर्शाई गई है जबकि 2021 में37024 जनसंख्या दिखाई गई है। ऐसे में छह साल के दौरान अनुसूचित जाति समाज की जनसंख्या लगभग पांच हजार कम कैसे होग ई? यह भी सोचनीय प्रश्र है।

जोकि 2021 में भिवानी नगर परिषद की वार्ड बंधी की जनगणना के अनुसार अनुसूचित जाति की जनसंख्या 58515 है। जिसके अनुसार अनुसूचित जाति की सीटों का बंटवारा नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि ऐसा करके अनुसूचित जाति के अधिकारों को छिना जा रहा है जिससे अनुसूचित जाती के लोग खफा है।

Read Also: Vaccination in Tarawari Karnal: देश को कोरोना मुक्त करने के लिये भारत विकास परिषद ने चलाया वैक्सीनेशन अभियान

अधिकारों को सुरक्षित रखते हुए नगर परिषद में अनुसूचित जाति आरक्षित सीटों को बढ़ाने की अपील Scheduled Castes Seat Reducing in Bhiwani

उन्होंने कहा कि हमारे अधिकारों को सुरक्षित रखते हुए नगर परिषद में अनुसूचित जाति की आरक्षित सीटों को बढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि अगर सीटों को बढ़ाया नहीं गया तो अनुसूचित जाति समाज के लोग एकत्रित होकर आंदोलन करने पर मजबूर होंगे। उन्होंने कहा कि जिस कर्मचारी ने उपरोक्त सीटें दी गई है उनके खिलाफ कार्यवाही की जाए और अनुसूचित जाति के लिए 7 सीटें आरक्षित की जाएं।

ज्ञापन सौंपने वालों में भगवानदास कालिया, वार्ड नं. 13 से पार्षद प्रवीण मास्टर , अनिल पेंटर, मुकेश सिंगीकाट, आशु, खन्ना, वीरभान मुवाल,ज्ञान सिंह बागड़ी, बिजेन्द्र इटकान ,दिनेश खन्नगवाल, अमित ढुलगच, अनिल डाबला व सुरेन्द्र इंदौरा समेत अनेक लोग शामिल थे।

Read Also: Bajra Roti Aluna Ghee and Sarson Ka Saag सर्दी के प्रभाव को कम करने के लिए रामबाण है बाजरे की रोटी, अलूणा घी व सरसों का साग

Read Also : Human Rights Day Messages 2021

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments