HomeपंजाबUncategorizedकोरोना काल में बढ़ी आर्थिक तंगी

कोरोना काल में बढ़ी आर्थिक तंगी

रिपोर्ट का खुलासा, नौकरी जाने के बाद भीख मांगने को मजबूर हुए लोग
आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली:

पिछले करीब डेढ साल से पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। इसने लगभग हर देश को प्रभावित करते हुए जहां लाखों लोगों की जिंदगी लील ली। वहीं वैश्विक आर्थिक तंगी को भी बढ़ा दिया है। कोरोना महामारी की वजह से लोगों पर क्या आर्थिक प्रभाव पड़ा इसको लेकर तरह-तरह के सर्वे हुए हैं। बहुत सारी संस्थाएं ये सर्वे अभी भी करवा रहीं हैं। उधर दिल्ली सरकार का एक हालिया सर्वे रिपोर्ट में बहुत ही चौकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं। ये आंकड़ें हम सभी को बहुत ज्यादा चिंता में डला सकते हैं। इन्हीं में से एक इंस्टीट्यूट आॅफ ह्यूमन डेवलपमेंट (एचआईडी) की एक सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक राष्टÑीय राजधानी में कोरोना महामारी के दौरान और उसके बाद भी भीख मांगने वाले लोगों की संख्या में बहुत ज्यादा वृद्धि देखी गई है। राजधानी की सड़कों और अन्य स्थानों पर भीख मांगने वालों की संख्या में काफी ज्यादा गिनती ऐसे लोगों की है जिन्होंने महामारी के दौरान अपना रोजगार खो दिया था। यह सर्वे इसी साल फरवरी और अप्रैल में हुआ था। सर्वे में कहा गया है कि दिल्ली की सड़कों पर भीख मांगने वालों में 52 फीसदी ऐसे लोग हैं जो पिछले 5 साल से भिक्षावृत्ति को मजबूर हैं। इन्में से भी बहुत सारे मार्च 2020 के बाद इससे जुड़े। रिपोर्ट में कहा गया है कि सर्वे में शामिल 20 हजार से ज्यादा भिखारियों की आमदनी रोजाना 200 रुपए से भी कम है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular