HomeपंजाबUncategorizedDanger of Delta Plus variant - 40 patients confirmed so far, this...

Danger of Delta Plus variant – 40 patients confirmed so far, this variant found in eighty countries: डेल्टा प्लस वैरिएंट का खतरा- अब तक 40 मरीज की पुष्टि, अस्सी देशों में मिला यह वैरिएंट

देश मेंकोरोना वायरस की दूसरी लहर देश में भले ही कम हो चुकी है लेकिन कोरोना वायरस की तीसरी लहर की संभावना देश मेंजल्द ही बताई जा रही है। भारत के लिए अब कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस वैरियंट चिंता का कारण बना हुआ है। देश मेंलगातार डेल्टा प्लस वेरिएंट के मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। अब तक यह आंकड़ा 40 तक पहुंच गया है। इन मामलों में सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र राज्य से हैं। हालांकि कल ही केंद्र सरकार ने भी डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर कुछ राज्यों को सर्तक रहने के लिए कहा है। जिनमें महाराष्ट, केरल, तमिलनाडू और मध्य प्रदेश शामिल हैं।सरकार ने कहा कि 80 देशों में डेल्टा स्वरूप का पता चला है। कोरोना वायरस का ‘डेल्टा प्लस स्वरूप भारत के अलावा, अमेरिका, ब्रिटेन, पुर्तगाल, स्विट्जरलैंड, जापान, पोलैंड, नेपाल, चीन और रूस में मिला है। इसे लेकर सबसे डरने वाली बात यह है कि यह डेल्टा प्लस वेरिएंट वैक्सीन और इम्युनिटी दोनों को चकमा दे सकता है।  डेल्टा प्लस स्वरूप वर्तमान में चिंताजनक स्वरूप (वीओसी) है, जिसमें तेजी से प्रसार, फेफड़े की कोशिकाओं के रिसेप्टर से मजबूती से चिपकने और ‘मोनोक्लोनल एंटीबॉडी प्रतिक्रिया’ में संभावित कमी जैसी विशेषताएं हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular