Homeराज्यपंजाबकेंद्र को लुधियाना में सीएफसी प्रोजेक्ट के प्रस्ताव की सिफारिश की :...

केंद्र को लुधियाना में सीएफसी प्रोजेक्ट के प्रस्ताव की सिफारिश की : अरोड़ा

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़ :
उद्योग विभाग ने लघु और छोटे उद्योग कलस्टर विकास प्रोग्राम (एमएसई-सीडीपी) स्कीम के अंतर्गत भारत सरकार के एमएसएमई, मंत्रालय को मेसर्ज आधुनिक प्रिंटिंग और पैकेजिंग कलस्टर, लुधियाना के सीएफसी प्रोजेक्ट के प्रस्ताव की सिफारिश की है। यह जानकारी प्रदेश के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने दी।
इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार सीएफसी की स्थापना के लिए अधिक से अधिक 20 करोड़ रुपए की प्रोजेक्ट लागत (लघु इकाइयों की संख्या के आधार पर) का 70 से 90 फीसदी प्रोजेक्ट लागत का प्रदान करती है और बकाया राशि एसपीवी/राज्य सरकार के द्वारा दी जाती है। राज्य में औद्योगीकरण और नौकरियों के मौके पैदा करने के लिए पंजाब सरकार के प्रयासों का जिक्र करते हुए मंत्री ने कहा कि यह सीएफसी प्रोजेक्ट लगभग 5750 व्यक्तियों को रोजगार के मौके प्रदान करेगा, जिससे प्रत्यक्ष और अप्रत्सक्ष तौर पर 20 करोड़ रुपए का निर्यात होगा। उत्पादकता और गुणवत्ता बढ़ने से लगभग 630 एमएसएमई यूनिटों को लाभ मिलेगा। यह प्रोजेक्ट उद्यमियों के द्वारा स्पेशल पर्पज व्हीकल के गठन अधीन लागू किए जा रहे हैं। सीएफसी ने कंपनी एक्ट-2013 की धारा 8 के अंतर्गत रजिस्टर्ड ‘मॉडर्न प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग फोर्म (एमपीपीएफ), लुधियाना का एक एसपीवी गठित किया है और गांव गौंसपुर, औद्योगिक जोन, लुधियाना में जमीन का प्रबंध किया है। इस प्रोजेक्ट में 20.01 करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा, जिसमें से 16.26 करोड़ रुपए मशीनरी और उपकरणों पर खर्च किए जाएंगे। मंत्री ने आगे बताया कि हमने इस योजना के अधीन 14 प्रोजेक्टों की पहचान की है, जिनमें से 2 सीएफसी पूरे हो चुके हैं और 4 प्रोजेक्ट लागूकरण अधीन हैं, जिसके लिए भारत सरकार के द्वारा पहले ही अंतिम मंजूरियां दी जा चुकी हैं। भारत सरकार इन प्रोजेक्टों के लिए 86.74 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular