Homeराज्यपंजाबअवैध खनन में पूर्व विधायक गिरफ्तार, भगवंत मान बोले- अभी कई रडार...

अवैध खनन में पूर्व विधायक गिरफ्तार, भगवंत मान बोले- अभी कई रडार पर

आज समाज डिजिटल, Punjab News:
पंजाब पुलिस ने अवैध खनन मामले में भोआ से कांग्रेस के पूर्व विधायक जोगिंदर पाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसएसपी अरुण सैनी ने इसकी पुष्टि की। मामले में तारागढ़ थाने में खान और खनिज अधिनियम की धारा 21 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। उन्हें आज अदालत में पेश किया जाएगा।

बिना सुबूत नहीं होगी कार्रवाई

सीएम भगवंत मान ने कहा कि कांग्रेस के तीन-चार पूर्व मंत्रियों के भी भ्रष्टाचार में संलिप्त होने की आशंका है, लेकिन बिना सुबूतों के कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। पाल 2017 से 2022 तक भोआ (आरक्षित) विधायक रहे थे और हाल के विधानसभा चुनाव में उन्हें कृषि मंत्री लाल चंद कटारुचक ने 1,200 मतों से हराया है।पुलिस ने एक शिकायत के बाद खनन किरियां गांव में कृष्णा क्रशर पर छापा मारा था। पुलिस ने तीन ट्रक खनन सामग्री, एक क्रेन और एक ट्रैक्टर-ट्रेलर जब्त किया था।

कृष्णा क्रशर यूनिट में भागीदार हैं पाल

प्राथमिकी को उस छापे का नतीजा माना जा रहा है, क्योंकि पाल का परिवार कृष्णा क्रशर यूनिट में भागीदार है। पंजाब में विधानसभा चुनाव बुरी तरह हारने के बाद राज्य कांग्रेस की हालत खराब हो गई है। वर्तमान में कांग्रेस के 4 पूर्व मंत्री स्टेट विजिलेंस की रडार पर हैं, जबकि एक पूर्व मंत्री जेल में हैं जो रोडरेज मामले में हत्या का दोषी होने की सजा काट रहे हैं। कांग्रेस के 4 पूर्व मंत्री ऐसे हैं जो हाल ही में कांग्रेस को छोड़कर भाजपा का चोला पहने चुके हैं। जबकि पंजाब कांग्रेस के एक पूर्व अध्यक्ष ने काफी पहले 50 साल बाद कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा की नाव पकड़ ली थी।

प्रदेश में कांग्रेस की हालत पहले ही पतली

इन सभी घटनाक्रमों को कांग्रेस की ऐसी हालत ऐसे समय में हुई है जब पंजाब में संगरूर के लोकसभा उपचुनाव के लिए 23 जून को है। कांग्रेस की कैप्टन सरकार के कार्यकाल में वन मंत्री रहे साधू सिंह धर्मसोत भ्रष्टाचार के आरोप में न्यायिक हिरासत के तहत जेल में बंद हैं।

पूर्व मंत्री संगत सिंह खिलाफ भी भ्रष्टाचार के मामले में एफआई दर्ज है और मामले की जांच चल रही है। इसके बाद विजिलेंस ठेकदारों की शिकायत पर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में हुए 2000 करोड़ रुपये के टेंडरों के कथित घोटाले में पूर्व मंत्री भारत भूषण आशु की भूमिका की भी जांच कर रही है। पूर्व कांग्रेस मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा भी भी सरकारी भूमि बेचने के मामले में जांच के दायरे में हैं। इसके अलावा मान ने अब दोबारा तीन से चार मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई की बात कर कांग्रेस को परेशानी में डाल दिया है।

ये भी पढ़ें : टीजीटी-पीजीटी के 5500 पदों पर भर्ती जल्द: मनोहर लाल

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular