HomeचुनावPunjab Assembly Elections Latest कांग्रेस की मुश्किलें खत्म! सिद्धू संग काम करने...

Punjab Assembly Elections Latest कांग्रेस की मुश्किलें खत्म! सिद्धू संग काम करने को तैयार सीएम चन्नी

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़:

Punjab Assembly Elections Latest : पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की मुश्किलें खत्म होती नजर आ रही हैं। या कहें कि खत्म हो सकती हैं। दरअसल मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि वे कांग्रेस की ईकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के साथ काम करने के लिए तैयार हैं। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि पार्टी के लिए वो कोई भी त्याग करने के लिए तैयार हैं। सीएम चन्नी का ये बयान उनके और सिद्धू के बीच चल रहे शीतयुद्ध की पृष्ठभूमि में आया है। बता दें कि सिद्धू अपनी ही सरकार की आलोचना करते हैं।

सिद्धू को वफादार सिपाही करार दिया Punjab Assembly Elections Latest

पंजाब सरकार के खिलाफ सिद्धू की टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर चन्नी ने कहा कि वो पार्टी के एक वफादार सिपाही हैं और पूरी ईमानदारी के साथ कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ह्यमैं सिद्धू साहब के साथ काम करने के लिए तैयार हूं और मैं पहले से ही ये कर रहा हूं। मैं पार्टी के लिए कोई भी त्याग करने के लिए हमेशा तैयार हूं। पार्टी मुझे जो भी कहेगी मैं उसका पालन करूंगा।ह्ण

सिद्धू और चन्नी में बन चुकी दूरियां Punjab Assembly Elections Latest

हाल के दिनों में सिद्धू लगातार पंजाब सरकार पर हमले करते रहे हैं। पिछले साल कैप्टन अमरिंदर सिंह को हटा कर कांग्रेस ने चन्नी को सीएम की कमान दे दी थी, जबकि सिद्धू को पंजाब में पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया। हालांकि कुछ ही दिनों के बाद उन्होंने अपना इस्तीफा भी दे दिया था। लेकिन दिल्ली में हाईकमान के कहने पर वो मान गए थे। इस बीच सिद्धू अब पार्टी पर चुनाव से पहले सीएम कैंडिडेट के ऐलान करने का दबाव बना रहे हैं।

सही मुख्यमंत्री जरूरी था: सिद्धू Punjab Assembly Elections Latest 

पिछले दिनों सिद्धू ने अपनी ही पार्टी पर हमला करते हुए 2022 के चुनावों के लिए मुख्यमंत्री पद के चेहरे पर अपना रुख साफ करने के लिए कहा था कि दूल्हे के बिना कैसी बारात? बीते दिनों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि संकट से बचने के लिए एक सही मुख्यमंत्री जरूरी था।

कांग्रेस आलाकमान का फैसला Punjab Assembly Elections Latest

कांग्रेस आलाकमान ने साफ-साफ कह दिया है कि पंजाब में अगला विधानसभा चुनाव संयुक्त रूप से मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (दलित चेहरा) पीपीसीसी प्रमुख नवजोत सिद्धू (जाट चेहरा) और पूर्व पीपीसीसी प्रमुख सुनील जाखड़ (हिंदू चेहरा) के संयुक्त नेतृत्व में लड़ा जाएगा। नवजोत सिंह सिद्धू ने बेअदबी मामले की जांच किए जाने में हुई देरी पर भी पंजाब सरकार और सीएम चरणजीत चन्नी पर निशाना साधा है।

Also Read: करनाल में शादी के पांच दिन बाद दुल्हन ने लगाया फंदा 

SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments