Homeराज्यपंजाबपंजाब में सरकारी अस्पतालों में कई महंगे टेस्ट अब फ्री होंगे

पंजाब में सरकारी अस्पतालों में कई महंगे टेस्ट अब फ्री होंगे

सीएम ने 1200 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट का ऐलान किया
सरकार सूक्ष्म, लघु और मध्यम कारोबार की सुविधा के लिए जल्द ही 1150 सुधार लागू करेगी
आज समाज डिजिटल, अमृतसर:
देश के 75वें ऐतिहासिक स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अनुसूचित जातियों के कल्याण के लिए विभिन्न कार्यक्रमों समेत लिंक सड़कों, फिरनियों और अन्य सड़कों के विकास के लिए 1200 करोड़ रुपए के प्रोजेक्टों का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही एक एक्ट नोटीफाई किया जाएगा जिसके अंतर्गत राज्य की अनुसूचित जाति आबादी की प्रतिशतता के बराबर दलित कल्याण के लिए बजट से खर्च करना अनिवार्य होगा और 85वीं संवैधानिक संशोधन को सुप्रीम कोर्ट के फैसलों के अनुसार लागू किया जाएगा। कारोबार करने को आसान बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम (एमएसएमईज) उद्योगों के लिए 1150 व्यापक सुधारों का ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि इस संबंधी विवरण निवेश प्रोत्साहन विभाग द्वारा अलग तौर पर साझे किए जाएंगे।
उन्होंने यह भी ऐलान किया कि कुछ महंगे चिकित्सीय इलाज और डायलिसिस, एक्स-रे आदि जैसे टैस्ट सरकारी अस्पतालों में फ्री किए जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि जल्द ही एक व्यापक स्वास्थ्य बीमा शुरू किया जाएगा। मुख्यमंत्री द्वारा किए गए कई अन्य महत्वपूर्ण घोषणाओं में पिछले 10 साल से काम कर रहे सभी सफाई कर्मचारियों को रेगुलर करना और आंगनबाड़ी वर्कर्स, मिनी आंगनबाड़ी वर्कर्स और हेल्पर्स के मासिक मानदेय में क्रमश: 600, 500 और 300 रुपए की वृद्धि करना शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण/शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की जरूरतों के अनुसार बुनियादी ढांचे के विकास के लिए पंजाब निर्माण प्रोग्राम के अंतर्गत 1170 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। भूमिहीन किसानों के कल्याण का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार आने वाली 20 अगस्त को मरहूम पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती के अवसर पर ऋण राहत स्कीम के अधीन 2.85 लाख भूमिहीन किसानों को 520 करोड़ रुपए की अदायगी करेगी। इसके अलावा एससी और बीसी कॉर्पोरेशन के लगभग 16,000 लाभार्थियों को जल्द ही 62 करोड़ रुपए की लागत के साथ 50 हजार रुपए तक का ऋण माफ किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पवित्र नगरी अमृतसर के नजदीक छठे सिख गुरु श्री गुरु हरगोबिंद साहिब जी के जन्मस्थली गुरु की वडाली और इसके आस-पास के क्षेत्र के विकास के लिए 5 करोड़ रुपए की व्यवस्था की जाएगी।
महान शहीद मदन लाल ढींगरा को श्रद्धांजलि भेंट करते हुए मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि उनको श्रद्धांजलि देने के लिए अमृतसर शहर में एक स्मारक बनाई जाएगी। इस अवसर पर अन्यों के अलावा सांसद गुरजीत सिंह औजला और विधायक डॉ. राज कुमार वेरका, सुनील दत्ती, हरप्रताप सिंह अजनाला, तरसेम सिंह डीसी, सुखविंदर सिंह डैनी, संतोख सिंह भलीपीर और बलविंदर सिंह लाडी, अमृतसर नगर निगम के मेयर करमजीत सिंह रिंटू, मुख्यमंत्री के वरिष्ठ सलाहकार ले. जनरल टीएस शेरगिल (सेवामुक्त), मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल, मुख्य सचिव विनी महाजन, डीजीपी दिनकर गुप्ता, डिविजनल कमिश्नर वरुण रूजम, डिप्टी कमिश्नर अमृतसर गुरप्रीत सिंह खैहरा, कमिश्नर पुलिस अमृतसर डॉ. सुखचैन सिंह गिल और कमिश्नर एमसी अमृतसर मालविंदर सिंह जग्गी उपस्थित थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments