Homeराज्यपंजाबगुरदासपुर: अब निजी अस्पतालों में भी मिलेंगे जन्म-मौत के प्रमाण पत्र, आवेदक...

गुरदासपुर: अब निजी अस्पतालों में भी मिलेंगे जन्म-मौत के प्रमाण पत्र, आवेदक के घर तक पहुंचेंगी सेवाएं

गगन बावा, गुरदासपुर:
सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में पंजाब सरकार की ओर से लोगों को एक ही छत के नीचे सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए सेवा केंद्र स्थापित किए गए हैं। लोगों को सेवा केंद्रों के माध्यम से समयबद्ध ढंग से सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। आज लोगों की सुविधा के लिए और 4 नई सुविधाओं की शुरुआत की गई है। इसे लेकर सहायक कमिश्नर (ज) अमनदीप कौर ने आवेदकों को जन्म सर्टिफिकेट बांटे। इस मौके पर जिला ई-गवर्नेंस कोऑर्डिनेटर अमरिंदर सिंह, सहायक ई डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर राहुल डोगरा, जिला मैनेजर सेवा केंद्र आशीष कटोच और सहायक जिला मैनेजर पवन कुमार मौजूद थे।
सेहत और प्रशासनिक सुधार विभाग का प्रयास: 
इस मौके पर अमनदीप कौर ने बताया कि सेवा केंद्रों में पहले से मिल रही सुविधाओं के साथ अब लोगों को जन्म व मौत के प्रमाण पत्र रजिस्ट्रार दफ्तर के अलावा निजी अस्पतालों से भी मिल सकेंगे। सेहत विभाग और प्रशासनिक सुधार विभाग के साझा प्रयास के तहत अब निजी अस्पतालों की ओर से जन्म मौत प्रमाण पत्र संबंधी जानकारी रजिस्ट्रार दफ्तर को ऑनलाइन पोर्टल से भेजी जाएगी। इससे कामकाज में और तेजी व पारदर्शिता आएगी‌। उन्होंने आगे बताया कि सेवा केंद्रों के माध्यम से घर जाकर सर्विस मुहैया कराई जाएगी। इसके तहत लोगों को उनके घर जाकर सरकारी सेवाएं मुहैया कराने की शुरुआत आज मोगा और कपूरथला से की गई है और जल्दी बाकी जिलों में भी इसे शुरू किया जा रहा है।
दस्तावेज प्रमाणित करने की सेवा हुई आसान:
इसी तरह एनआरआई सेल पंजाब से दस्तावेजों को प्रमाणित कराने की सेवा को आसान किया गया है। अब किसी को भी चंडीगढ़ दफ्तर जाकर अपने दस्तावेजों की तस्दीक कराने की जरूरत नहीं है। लोग अपने नजदीकी सेवा केंद्र पर पहुंचकर केवल अपने दस्तावेज जमा करवा कर रसीद प्राप्त कर सकते हैं। बाकी का काम सेवा केंद्र का होगा। इसके अलावा आवेदक को फोन पर मैसेज के माध्यम से हर जानकारी आती रहेगी और तैयार तस्दीक शुदा दस्तावेज सेवा केंद्र से प्राप्त किया जा सकेगा।
ऑनलाइन आरटीआई पोर्टल शुरू:
इसी तरह ऑनलाइन आरटीआई पोर्टल की शुरूआत की गई है। अब लोगों को सूचना के अधिकार के तहत किसी भी विभाग से जानकारी लेने के लिए ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अप्लाई करना होगा। आवेदन संबंधित लोक सूचना अधिकारी के पास पहुंच जाएगा। आवश्यक सूचना या जानकारी भी ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से ही प्राप्त हो सकेगी। इस मौके पर गांव जीवनवाल बबरी के मनजिंदर सिंह, ओंकार नगर के राकेश महाजन, साधुचक के हरप्रीत सिंह और आईटीआई कॉलोनी के राजकुमार को बच्चों के जन्म सर्टिफिकेट बांटे गए। उन्होंने पंजाब सरकार की सेवा केंद्रों के माध्यम से प्रदान की जा रही सेवाओं की प्रशंसा करते कहा कि इससे लोगों को बहुत लाभ मिला है और लोगों के पैसे और समय की बहुत बचत हो रही है।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular