Homeराज्यपंजाबगुरदासपुर : महरम साहित्य सभा के कवि दरबार में पुस्तक रंग रंग...

गुरदासपुर : महरम साहित्य सभा के कवि दरबार में पुस्तक रंग रंग के फूल का विमोचन

गगन बावा, गुरदासपुर :

महरम साहित्य सभा नवांशाला की ओर से सावन माह में विशेष कवि दरबार आयोजित किया गया, जिसकी अध्यक्षता सभा के प्रधान मलकीत सुहल, शीतल गुन्नोपुरी और कुलजीत सिंह रंधावा ने की। इस मौके पर रंधावा की पुस्तक रंग रंग के फूल भी रिलीज की गई। प्रोग्राम कम्युनिटी हॉल नवां शाला में रखा गया था । कवि दरबार सावन महीने को समर्पित रहा, जिसमें मंच संचालन की भूमिका महेश चंद्रभानी ने निभाई और प्रोग्राम की शुरूआत पंजाबी गायक प्रीत राणा के गीत से की गई। उन्होंने आया सावन महीना बहुत बढ़िया सुरीली आवाज में गाया। जोगिंदर सिंह ने सूफी गीत तू जा के तां वेख लै पेश किया। पन्ना मीलमा की कविता बोल दी सरकार और रमेश कुमार ने अपनी कविता व कुलराज खोखर ने अपनी रचनाएं सुनाकर कमाल कर दिया।

बुजुर्ग शायर अवतार सिंह अनजान ने खूबसूरत कविता पेश की। गीतकार व गायक निमा कलेर ने गीत पेश कर वाहवाही लूटी। जगदीश राणा लालपुरिया की कविता और अजमेर पाहड़ा ने कहानी सुना कर मन मोह लिया। कवित्री जैस्मिन माही ने कविता और गुरबचन सिंह बाजवा ने सावन महीने की कविता से उपस्थिति दर्ज कराई। सुधीर धारीवाल ने शिव बटालवी का गीत पेश किया और हीरा सिंह सैनी ने सावन की कविता सभी के सामने रखी। रमेश कुमार जानू की कविता खूबसूरत रही। गजलगो शीतल गुन्नोपुरी ने कुलजीत सिंह रंधावा की पुस्तक रंग रंग के फूल के बारे में संक्षिप्त शब्दों में विचार व्यक्त किए और गजल सुनाई। गुरमीत पाहड़ा ने पंजाब के बारे में कविता कही और चंद्रशेखर आजाद ने कविता सुना कर सभी का मन मोह लिया। महेश चंद्रभानी ने इटली से भेजी गई सर्वेश सिंह की कविता श्रोताओं के सामने पेश की।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments