Homeराज्यपंजाबड्रग केस में फंसे Bikram Singh Majithia पर एक और खतरा

ड्रग केस में फंसे Bikram Singh Majithia पर एक और खतरा

Bikram Singh Majithia

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़:
Bikram Singh Majithia : शिरोमणी अकाली दल (बादल) के वरिष्ठ नेता बिक्रम सिंह मजीठिया इस समय पटियाला की सेंट्रल जेल में हैं। उन पर नशीले पदार्थों के धंधे के आरोप हैं। इस समय पटियाला जेल प्रशासन ने उनकी सुरक्षा में सख्ती कर दी है। कारण है कि अब उनके सामने एक और खतरा खड़ा हो गया है।

जेल में निशाना बनाने की साजिश

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उन्हें न्यायिक हिरासत में रखने के एक दिन बाद अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (आंतरिक सुरक्षा) ने एडीजीपी (जेल) और एडीजीपी (सुरक्षा) को पत्र लिखा था। इसमें कहा गया था कि विदेश में स्थित खालिस्तान समर्थक बिक्रम सिंह मजीठिया को जेल में निशाना बनाने की साजिश रच रहे हैं। मजीठिया बीकेआई (बब्बर खालसा इंटरनेशनल), केटीएफ (खालिस्तान टाइगर फोर्स), केजेडएफ (खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स) जैसे खालिस्तान समर्थक संगठनों की हिट लिस्ट में हैं।

खालिस्तानी संगठनों के निशाने पर

मजीठिया ड्रग मामले में 24 फरवरी से न्यायिक हिरासत में हैं। उनके खिलाफ पिछले साल दिसंबर में ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट के तहत केस दर्ज हुआ था। सुप्रीम कोर्ट की ओर से दी अंतरिम राहत समाप्त होने के बाद उन्होंने मोहाली की अदालत में आत्म समर्पण कर दिया था। हालांकि अब वे विदेश से संचालित खालिस्तानी संगठनों के निशाने पर हैं। खुफिया एजेंसियों से इस तरह की सूचना मिली है। इसके बाद जेल प्रशासन ने उनकी सुरक्षा बढ़ाई है।

सुरक्षा के आवश्यक प्रबंध

पत्र में बताया गया है कि केटीएफ आतंकियों ने पंजाब स्थित कार्यकतार्ओं और बदमाशों की मदद से मजीठिया को निशाना बनाने के लिए साजिश रची थी। इसलिए आपसे अनुरोध है कि उनके न्यायिक अभिरक्षा में रहने के दौरान उनकी सुरक्षा के आवश्यक प्रबंध किए जाएं। इसके बाद एक बयान में अतिरिक्त डीजीपी पीके सिन्हा ने भी इसकी पुष्टि की। उन्होंने कहा कि खुफिया एजेंसियों से मिली सूचनाओं के अनुसार ही मजीठिया के लिए जेल में विशेष सुरक्षा उपाय किए गए हैं।

खुद खाना पका रहे मंजीठिया

मजीठिया को जेल के एक हिस्से में अलग-थलग कर दिया गया है। उस हिस्से में बहुत सख्त इंतजाम किए गए हैं। जेल विभाग के शीर्ष सूत्रों ने बताया कि मजीठिया ने हाल ही में अपने लिए खाना बनाना शुरू किया है। इसका विकल्प जेल विभाग विशिष्ट सुरक्षा प्राप्त विचाराधीन कैदियों को देता है।

Bikram Singh Majithia
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular