Thursday, December 2, 2021
Homeराज्यपंजाबगुरदासपुर : स्वयंवर में धनुष टूटते ही जय श्रीराम के उदघोष से...

गुरदासपुर : स्वयंवर में धनुष टूटते ही जय श्रीराम के उदघोष से गूंजा मैदान, सीता के हुए राम

गगन बावा, गुरदासपुर :
153 साल पुरानी हिंदू युवक सभा राम नाटक क्लब बाबा सलण्डर के मैदान में भगवान श्री राम सीता के विवाह का मंचन दिखाया गया। प्रधान हरदीप सिंह रियाड ने बताया कि बुधवार की रात सीता स्वयंवर में मुनि विश्वामित्र के साथ जा रहे राम ने रास्ते में अहिल्या का उद्धार किया। भगवान राम व सीता का मिलन पुष्पा वाटिका में हुआ। राजा जनक के दरबार में आयोजित सीता स्वयंवर में अनेक देशों के विभिन्न राजा आए लेकिन कोई भी शिव धनुष को हिला तक नहीं सका। स्वयंवर में अजब-गजब देशों के आए राजकुमारों को देखकर दर्शक हंसे बिना नहीं रह सके। फिर गुरु विश्वामित्र की आज्ञा पाकर भगवान राम धनुष तोड़ने पहुंचे। भगवान श्री राम ने धनुष का खंडन करने के बाद सीता को वरमाला पहनाई।आयोजित माता सीता के स्वयंवर में श्री राम द्वारा धनुष को तोड़ा जाना दिखाया गया। धनुष टूटने के बाद भगवान परशुराम का क्रोधित होना व लक्ष्मण के साथ संवाद ने दर्शकों का मन मोह लिया। अंत में रामायण जी की आरती की गई।श्री राम जी की वेशभूषा में बबलू, लक्ष्मण की वेशभूषा में शिवम शर्मा, विश्वामित्र की वेशभूषा में रंजीत सिंह राणा, जनक की वेशभूषा में गोपालकृष्ण कालिया, सीता के रुप में अजय कुमार ,मंत्री दीपक महाजन,मेकअप ट्रैक्टर शमी रतन, प्रभजोत सिंह मंगा, शिव नंदा, रमेश आदि ने हिस्सा लिया।इस मौके पर रजिंद्र नंदा, शिव नंदा, रमेश कुमार,अनील कुमार, सुनील कुमार आदि मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments