Homeराज्यपंजाबप्रतिदिन 60 हजार कोरोना टेस्ट किए जाएं : सीएम

प्रतिदिन 60 हजार कोरोना टेस्ट किए जाएं : सीएम

वर्चुअल तरीके से लुधियाना और फरीदकोट में बच्चों के कोविड वॉर्ड और पीएसए आॅक्सीजन प्लांट्स का उद्घाटन किया
आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़:
कोविड मामलों की मौजूदा दर के आने वाले 64 दिनों में बढकर दोगुना होने के अनुमानों को विचारते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा शनिवार को राज्य के अंदर कोविड टेस्ट को बढ़ाकर कम से कम 60 हजार प्रतिदिन करने के आदेश दिए हैं। यह आदेश मुख्यमंत्री द्वारा लुधियाना और फरीदकोट में बच्चों के कोविड वॉर्ड और पीएसए आॅक्सीजन प्लांट्स का वर्चुअल विधि के द्वारा उद्घाटन करने के समय दिए गए। कोविड की संभावित तीसरी लहर संबंधी राज्य की तैयारियों का जायजा लेते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने स्वास्थ्य विभाग को सरकारी और निजी अस्पतालों के ओपीडी मरीजों के लिए, यात्रियों के दाखिला स्थानों, सरकारी दफ्तरों, उद्योग और लेबर कॉलोनियों, मैरिज पैलेस, रेस्टोरेंट्स, पब, बार, जिम आदि के स्टाफ की टेस्टिंग को प्रमुखता के साथ शुरू करने के लिए आदेश दिए हैं। जीआईएस निगरानी और रोकथाम के तरीकों, जिसके जरिए स्थानीय पाबंदियों के लिए स्व-चालित व्यवस्था जो समूचे जिलों में मौजूद है और जरूरत पड़ने पर स्थानीय पाबंदियों में सहायक बनेगी, पर तसल्ली का इजहार करते हुए उन्होंने कहा कि इसको आधार बनाकर जिले माइक्रो कंटेनमेंट जोन से संबंधित नीति बनाएंगे। लुधियाना के सिविल अस्पताल में बच्चों के इलाज के लिए कोविड पैडरीऐटिक वॉर्ड (पीआईसीयू) में पांच पैडरीऐटिक इंटेसिव केयर यूनिट और बच्चों में मल्टीसिस्टम इन्फलेमेटरी सिंड्रोम (एमआईएससी) के आठ बेड मौजूद हैं। यह कहते हुए कि अत्याधुनिक पीआईसी यूनिट की तुलना देश के अंदर इस तरह की उत्तम सुविधा के साथ की जा सकती है, मुख्यमंत्री ने हीरो ईकोटेक लिमिटेड, लुधियाना के विजय मुंजाल और दयानंद मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के डॉ. बिशव मोहन की 20 लाख की लागत वाली इस सुविधा दान करने के लिए धन्यवाद किया। डॉ. बिशव मोहन की सहायता से डॉक्टरों और नर्सों को प्रशिक्षण दिया गया है। इस वॉर्ड के लिए डीएमसीएच से ईको और कार्डियोलॉजी बैकअप मौजूद है। डॉ. रुपेश अग्रवाल (सिंगापुर) जीसस प्रोजेक्ट ओ-2, इंडिया, द्वारा 5 पीआईसीयू बेड दान किए गए हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular