Homeराज्यहिमाचल प्रदेशसुंदरनगर तथा नालागढ़ की आबोहवा में सुधार, देश के शहरों में किए...

सुंदरनगर तथा नालागढ़ की आबोहवा में सुधार, देश के शहरों में किए गए सर्वेक्षण में सुंदरनगर ने दूसरा तथा नालागढ़ ने तीसरा स्थान किया हासिल 

आज समाज डिजिटल, शिमला (Sundernagar and Nalagarh Climate): हिमाचल के दो नगरों सुंदरनगर तथा नालागढ़ की आबोहवा में सुधार हुआ है। राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (NCAP) के तहत देश के शहरों में किए गए सर्वेक्षण में सुंदरनगर ने दूसरा तथा नालागढ़ ने तीसरा स्थान हासिल किया है। राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा वायु प्रदूषण प्रबंधन को लेकर किए गए प्रयासों के चलते इन दोनों शहरों को यह पुरस्कार मिला है।

वायु प्रदूषण प्रबंधन को कारगर ढंग से लागू करने के बाद हवा में प्रदूषण वाले कणों में कमी लाकर हवा की गुणवत्ता में सुधार के एवज केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने दोनों शहरों को पुरस्कारों से नवाजा है। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल प्रौ. गणेशी लाल तथा केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने दोनों शहरों को पुरस्कारों से नवाजा। भुवनेश्वर में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में इन शहरों को पुरस्कारों से नवाजा गया।

एनएसीपी पुरस्कारों (NACP Awards) में दूसरा स्थान पाने पर सुंदरनगर को 25 लाख तथा नालागढ़ को तीसरा स्थान पाने पर 12 लाख 50 हजार की पुरस्कार राशि से नवाजा गया। प्रदेश सरकार की तरफ से राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुख्य वैज्ञानिक अधिकारी डॉ मनोज चौहान ने भुवनेश्वर में यह पुरस्कार प्राप्त किया।

राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य सचिव अपूर्व देवगन ने बताया कि  बोर्ड प्रदेश में प्रदूषण नियंत्रण के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। उन्होंने बताया कि पर्यावरण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव लगातार प्रदूषण नियंत्रण के मकसद से लागू कार्यक्रमों की समीक्षा करते हैं। जिला स्तर पर भी इसे लेकर कमेटियों का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि वायु प्रदूषण पर नियंत्रण पाने के मकसद से बोर्ड ने प्रदेश के छह प्रमुख शहरों में विशेष कार्यक्रम चलाया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस कार्यक्रम के नतीजे सामने आने लगे हैं। जल्द ही प्रदेश के अन्य शहरों की हवा में भी प्रदूषण के कणों में कमी आएगी।

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular