Homeराज्यहिमाचल प्रदेशहिमाचल विधानसभा का विशेष सत्र 16 और 17 सितंबर को

हिमाचल विधानसभा का विशेष सत्र 16 और 17 सितंबर को

हिमाचल के पूर्ण राज्यत्व के 50 वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य पर होगा आयोजन
स्कूल अब 4 सितंबर तक रहेंगे बंद, पहली सितंबर से खुलेंगे कॉलेज
शिमला। हिमाचल प्रदेश अपने पूर्ण राज्यत्व के 50 वर्ष पूरे कर चुका है। इसे लेकर सरकार ने वर्ष 2021 को ‘स्वर्णिम हिमाचल’ के रूप में मना रहा है। 50 वर्ष के इस सफर को यादगार बनाने के लिए सरकार ने कई तरह के कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया था, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते आयोजन नहीं हो पाए। अब 16 और 17 सितंबर को हिमाचल प्रदेश विधानसभा का विशेष मानसून सत्र बुलाया जा रहा है।
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इस विशेष सत्र के आयोजन का निर्णय लिया गया। इस सत्र में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को विशेष रूप से आमंत्रित किया जाएगा। राष्ट्रपति द्वारा मंजूरी न मिलने पर उपराष्ट्रपति या लोकसभा अध्यक्ष को सत्र के लिए विशेष रूप से आमंत्रित किया जाएगा। उधर, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कैबिनेट ने स्कूलों को एक सप्ताह और बंद रखने का निर्णय लिया है। अब प्रदेश में 4 सितंबर तक स्कूल बंद रहेंगे। पांच सितंबर को रविवार है। इसके बाद स्कूल खोलने हैं या नहीं, इसका फैसला आने वाले दिनों में लिया जाएगा। इस बीच, टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टॉफ पहले की तरह स्कूल आता रहेगा। इससे पहले 28 अगस्त तक स्कूल बंद रखे गए थे। उधर, कॉलेजों में पहली सितंबर से कक्षाएं लगेंगी।
वहीं, कोरोना को लेकर बंदिशें पहले की तरह जारी रहेंगी। सामाजिक और राजनीतिक कार्यक्रम में स्पेस के आधार पर 50 प्रतिशत लोगों की ही भीड़ जुट पाएगी। प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार कोई फैसला ले सकती है, लेकिन सरकार ने अभी पहले वाली स्थिति को ही कायम रखा है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments