Homeराज्यहिमाचल प्रदेशअतिक्रमण करने से रोका तो पीटा, कोमा में, आंदोलन की चेतावनी

अतिक्रमण करने से रोका तो पीटा, कोमा में, आंदोलन की चेतावनी

आज समाज डिजिटल, Shimla News : यहां के धवास गांव में एक व्यक्ति को इतना बुरी तरह से पीटा कि वह कोमा में चल गया। वो अब जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहा है। पीड़ित का इलाज इस समय शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में हो रहा है। पीड़ित कोमा में वेंटिलेटर पर है। पीड़ित के भाई केवल राम ने आरोप लगाया कि धवास के कुछ लोगों ने उसके भाई को तब पीटा जब वो उन्हें अतिक्रमण करने से रोक रहा था। यह घटना 12 मई की है।

पीड़ित को जाति सूचक शब्दों से अपमानित भी किया

झगड़े के दौरान आरोपियों ने पीड़ित को जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल कर अपमानित भी किया। मामला सामने आने के बाद से लोगों में काफी रोष है हालांकि अब तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। पीड़ित वर्ग ने प्रशासन से मांग की है कि जल्दी से जल्दी आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्यवाही करें। जिससे कि उन्हें इंसाफ मिल सके। इस मामले में अब भीम आर्मी भी आगे आ गई है। भीम आर्मी के हिमाचल अध्य्क्ष रवि कुमार दलित ने प्रशासन को चेताया कि जल्द कोई गिरफ्तारी नहीं हुई तो कल से भीम आर्मी सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेगी।

आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग

पीड़ित युवक के भाई का कहना है कि छोटी सी बात पर विवाद हुआ। भाई ने सवर्णों को अतिक्रमण के लिए रोका था। यदि सवर्णों को मेरे भाई के बोलने का तरीका सही नहीं लगा था तो वे शिकायत करते। उसे इतनी बुरी तरह से पीटना कहां तक सही है। सर्वर्णों ने जाति सूचक शब्दों का प्रयोग किया। हम जिस भी जाति से हैं, इससे सवर्णों को हमारी ही जमीन पर अतिक्रमण करने का हक नहीं मिल जाता।

हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द पुलिस आरोपियों को पकड़े और सजा दिलाए। पुलिस ने शिकायतकतार्ओं के बयान के आधार पर आईपीसी की धारा 341, 323, 504, 506, 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। जांच अधिकारी मनोज राठौड़ के अनुसार पुलिस को सूचना मिली कि पीड़ित को रॉड और लकड़ी से बुरी तरह पीटा गया। मामले की जांच की जा रही है और आरोपियों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें : दोस्त को उतारा मौत के घाट फिर किए टुकड़े, कारण 25 हजार रुपये का लेनदेन

ये भी पढ़ें : बिजली संकट, तीन यूनिटों में उत्पादन बंद, बढ़ी मांग

ये भी पढ़ें : अंबाला में मिले हैंड ग्रेनेड का संबंध भी करनाल में पकड़े आतंकियों से जुड़े

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular