Homeराज्यहिमाचल प्रदेशShimla News : राज्यपाल ने सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष में उदारतापूर्वक...

Shimla News : राज्यपाल ने सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष में उदारतापूर्वक योगदान देने का आह्वान किया

आज समाज डिजिटल, (Shimla News): राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर (Governor Rajendra Vishwanath Arlekar) ने बुधवार को सशस्त्र सेना झंडा दिवस (Armed Forces Flag Day) के अवसर पर सशस्त्र बलों के सभी सदस्यों और उनके परिवारों को बधाई और शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक, ब्रिगेडियर मदन शील शर्मा (सेवानिवृत्त) ने राज्यपाल के कोट पर सशस्त्र सेना का झंडा लगाया।

इस अवसर पर, राज्यपाल ने सभी नागरिकों से सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष में उदारतापूर्वक योगदान देने और सैनिकों, पूर्व सैनिकों व उनके परिवारों के कल्याण के लिए कार्य व सेवा करने की अपील की। उन्होंने कहा कि देश का हर नागरिक भारतीय सशस्त्र बलों की महत्वपूर्ण भूमिका से परिचित है। देश के सैनिक कठिन परिस्थितियों के समय और प्राकृतिक आपदाओं के दौरान देश व नागरिकों की मदद करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सशस्त्र बलों का गौरवशाली इतिहास रहा है। सेना, नौसेना और वायु सेना के जवानों ने देश की सेवा करते हुए जो बलिदान दिया है, वह उल्लेखनीय है।

राज्यपाल ने कहा -मैं इन सैनिकों के साहस और समर्पण को सलाम करता हूं और देश के लिए उनकी वीरता और सेवा के लिए आभार व्यक्त करता हूं।- उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के वीर सपूत हमारे सशस्त्र बलों का गौरव हैं इसलिए यह और अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है कि हम सभी इस नेक काम के लिए उदारता से योगदान दें।

इस अवसर पर सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक ब्रिगेडियर मदन शील शर्मा (सेवानिवृत्त) ने राज्यपाल को भूतपूर्व सैनिकों, वीर नारियों, उनके आश्रितों और सेवारत सशस्त्र बल कर्मियों के कल्याण के लिए विभाग द्वारा किए गए प्रयासों और पहलों के बारे में जानकारी दी।

ये भी पढ़ें : हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव की मतगणना का काउंट डाउन शुरू, आज सबह होगी मतगणना 

ये भी पढ़ें : Himachal Election : 52,859 डाक मतपत्र प्रदेश के सभी रिटर्निंग अधिकारियों के पास पहुंचे : गर्ग 

ये भी पढ़ें : शुरूआती रुझानों में आम आदमी पार्टी को 126 सीटों के साथ मिलता दिख रहा बहुमत, बीजेपी पीछे

ये भी पढ़ें : मुंबई में धारा 144 लगाने के आदेश, 2 जनवरी तक प्रदर्शन, बैठकों समेत इन एक्टिविटीज पर पूर्णत: रोक

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular