Homeराज्यहिमाचल प्रदेशOrganizing Saras Fair From March 21 to March 30 : धर्मशाला में...

Organizing Saras Fair From March 21 to March 30 : धर्मशाला में 21 से 30 मार्च तक आयोजित होगा सरस मेला 

Organizing Saras Fair From March 21 to March 30 : धर्मशाला में 21 से 30 मार्च तक आयोजित होगा सरस मेला 

  • देश के विभिन्न प्रांतों से अपने उत्पादों के साथ आएंगे स्वयं सहायता समूह 

आज समाज डिजिटल, शिमला :

Organizing Saras Fair From March 21 to March 30 : ग्रामीण विकास विभाग की ओर से धर्मशाला के पुलिस ग्राउंड में 21 मार्च से लेकर 30 मार्च तक सरस मेले का आयोजन किया जाएगा इस मेले के सफल आयोजन के लिए विभिन्न कमेटियां गठित कर दी गई हैं। यह जानकारी उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने दी। उन्होंने कहा कि सरस मेले में देश के विभिन्न राज्यों के स्वयं सहायता समूह अपने अपने उत्पादों के साथ शामिल होंगे जिसमें मुख्य तौर पर स्वयं सहायता समूहों द्वारा तैयार बंबू आर्ट, बंगाली साड़ी, चितकारी सूट, पेंटिंग, कारपेट, बच्चों के खिलौने तथा विभिन्न प्रदेशों के उत्कृष्ट हैंडीक्राफ्ट को प्रदर्शित किया जाएगा।

Organizing Saras Fair From March 21 to March 30

उन्होंने कहा कि हिमाचल के विभिन्न जिलों के स्वयं सहायता समूह भी सरस मेले में भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि एक सौ के करीब स्टाल लगाए जाएंगे इस के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दे दिए गए हैं। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि सरस मेला स्थल पर बेहतरीन फूड कोर्ट भी स्थापित किया जाएगा ताकि मेले में आए लोग स्वादिष्ट व्यंजनों का स्वाद चख सकें।उन्होंने कहा कि सरस मेला स्थल पर बच्चों के मनोरंजन के लिए मैजिक शो, झूले इत्यादि लगाने की व्यवस्था भी की जाएगी। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि सरस मेले में विभिन्न विभागों द्वारा अपने अपने विभागों से संबंधित योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी भी दी जाएगी। (Organizing Saras Fair From March 21 to March 30) इसमें आयुष विभाग, कृषि, उद्यान विभाग, स्वास्थ्य विभाग, बैकिंग क्षेत्र से संबंधित जानकारियां भी लोगों के साथ सांझा की जाएगी।

धर्मशाला तथा डीआरडीए के कार्यालय में हेल्प डेस्क भी स्थापित

उन्होने कहा कि रेडक्रास सोसाइटी द्वारा रक्तदान शिविर तथा एकीकृत चिकित्सा जांच शिविर भी लगाया जाएगा इसके साथ ही पौषाहार को लेकर आवश्यक जानकारियां भी लोगों को दी जाएंगी। सरस मेले में लोक संस्कृति पर आधारित कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे ताकि लोक संस्कृति के बारे में भी जानकारी सांझा की जा सके। बाहरी राज्यों से आने वाले स्वयं सहायता समूहों के प्रतिनिधियों के रहने तथा ठहरने की उचित व्यवस्था के लिए भी कमेटियां गठित कर दी गई हैं इसके साथ ही पठानकोट, बस स्टेंड धर्मशाला तथा डीआरडीए के कार्यालय में हेल्प डेस्क भी स्थापित किए जाएंगे ताकि प्रतिभागियों को किसी भी तरह की असुविधा नहीं हो। (Organizing Saras Fair From March 21 to March 30) उन्होंने कहा कि सरस मेले के दौरान पार्किंग, स्वच्छता तथा विद्युत की उचित व्यवस्था करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए गए हैं। इससे पहले एडीसी राहुल कुमार ने सरस मेले के आयोजन की रूपरेखा के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक खुशहाल शर्मा सहित एसडीएम शिल्पी बेक्टा, परियोजना अधिकारी डीआरडीए सोनू गोयल तथा विकास खंड अधिकारी उपस्थित थे।

Also Read : द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म हरियाणा में हुई टेक्स फ्री, सिनेमा घरों को आदेश जारी
SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular