Homeराज्यहिमाचल प्रदेशLand Dispute Turned into a Bloody Conflict: खूनी झड़प में बदला जमीनी...

Land Dispute Turned into a Bloody Conflict: खूनी झड़प में बदला जमीनी विवाद , मां बेटा लहूलुहान, जांच में जुटी पुलिस

रमेश पहाड़िया, पांवटा साहिब:

Land Dispute Turned into a Bloody Conflict: विकासखंड पांवटा साहिब की जामनिवाला पंचायत में एक परिवार में घर के बंटवारे के विवाद ने खूनी रंग ले लिया। जिसमें परिवार के सदस्यों ने पंचायत घर के भीतर ही एक दूसरे के खून के प्यासे बन गए।

इस दौरान एक पक्ष के तीन लोग घायल हुए हैं, अमरजीत सिंह ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज की है। अमरजीत सिंह की पत्नी के हाथ को तेज धार हथियार से काटा गया है , जबकि अमरजीत के बेटे सरबजीत सिंह सिर पर गहरी चोट आई हैं।

झड़प में एक ही पक्ष के तीन लोग घायल

इस झड़प में एक ही पक्ष के तीन लोग घायल हुए हैं, एक महिला और युवक को गंभीर चोटें आई हैं। आरोप है कि दूसरे पक्ष के लोग सुनियोजित ढंग से हमला करने की मंशा से पंचायत घर पहुंचे थे। हालांकि पंचायत प्रधान ने परिवार के सदस्यों को मकान के बंटवारे को लेकर उपजे विवाद के निपटारे के लिए बुलाया था।

दरअसल अमरजीत सिंह और उसके भाई, बहनों के बीच घर के बंटवारे को लेकर पिछले कई दिनों से विवाद चल रहा था। इस दौरान परिवार के सदस्यों में पहले भी कई बार कहासुनी और झड़प हो चुकी थी। झगड़े और विवाद से बचने के लिए अमरजीत सिंह कुछ दिन पहले ही विवादित स्थल को छोड़कर अपने निर्माणाधीन मकान में चले गए थे।

सतनाम कौर के हाथ में लगभग 15 टांके लगे

पंचायत प्रधान ने परिवार के आपसी झगड़े को निपटारे को मंगलवार को पंचायत घर में बैठक बुलाई थी। बैठक में पंचायत के लोगों के सामने ही परिवार के सदस्यों में आपस में बहस बाजी शुरू हो गई और बहस बाजी ने खूनी रूप ले लिया। अमरजीत सिंह और उसके परिवार के घायल सदस्यों का आरोप है कि दूसरे पक्ष के लोग उन पर हमला करने की नियत से 15 से 20 लोगों को लेकर बैठक में आए थे और उन्होंने अपने इरादों को अंजाम दिया।

इस झड़प में अमरजीत सिंह को भी चोटें आई हैं , जबकि अमरजीत के बेटे सरबजीत सिंह के सिर पर गहरी चोट आई हैं, वहीं अमर जीत की पत्नी सतनाम कौर के हाथ पर तेजधार हथियार से वार हुआ है और सतनाम कौर के हाथ में लगभग 15 टांके लगे हैं। हमले के बाद परिवार उनकी सुरक्षा को लेकर चिंतित है और प्रशासन से उन्हें न्याय और सुरक्षा देने की मांग कर रहा है।

Read Also: हकेवि में सतत विकास जल और बिजली संरक्षण पर वेबिनार आयोजित,पानी की बूंद-बूंद का महत्त्व समझना होगा – रमेश गोयल: Central University HKV

Read Also: उद्देश्यों को प्राप्त करने में अहम नाट्य कला, अनिल कौशिक: Maharishi Dayanand University

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular