Homeराज्यहिमाचल प्रदेशकोविड टीकाकरण: 24 से 27 अगस्त तक चलेगा अभियान

कोविड टीकाकरण: 24 से 27 अगस्त तक चलेगा अभियान

वैक्सीन से छूटे सभी पात्र लोगों को कोरोना रोधी टीके की पहली खुराक का लक्ष्य
आज समाज डिजिटल, मंडी:
जिले में शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण के लिए 4 दिन का विशेष अभियान चलाया जा रहा है। 24 से 27 अगस्त तक के इस विशेष अभियान में वैक्सीनेशन से छूटे सभी पात्र लोगों को कोरोना रोधी टीके की पहली खुराक का लक्ष्य रखा गया है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए उपायुक्त अरिंदम चौधरी की अध्यक्षता में सोमवार को सीएमओ कार्यालय सभागार में आयोजित जिला टास्क फोर्स की बैठक में कारगर रणनीति बनाई गई।
उन्होंने बताया कि जिले में पंचायतवार टीकाकरण का प्लान बनाया गया है। अगले 4 दिन में शत-प्रतिशत टीकाकरण तय बनाने के लिए मिशन मोड पर काम किया जाएगा। सभी संबंधित विभागों को सक्रिय सहयोग को लेकर निर्देश दिए गए हैं। अभियान में जन भागीदारी तय बनाने में पंचायत स्तरीय कोविड प्रबंधन समितियों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। इसमें उनकी पूरी मदद ली जाएगी। पंचायत प्रतिनिधियों व सचिवों की लोगों को टीकाकरण केंद्र पर लाने में भी जिम्मेदारी रहेगी।
इसके अलावा उपमंडल स्तर पर एसडीएम की अध्यक्षता में गठित समितियों को भी आपसी समन्वय से लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करने को कहा गया है।
उपायुक्त ने बताया कि टीकाकरण को लेकर जिले में 8 लाख 6 हजार के करीब पात्र लोग हैं। इनमें से 7 लाख 22 हजार से अधिक को कोरोना रोधी टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है। इस तरह टीकाकरण अभियान में 90 फीसदी पात्र आबादी कवर की जा चुकी है। शेष करीब 72 हजार लोगों को अगले 4 दिन में कवर करने का लक्ष्य है।
टीकाकरण से छूटे हुए लाभार्थियों की पहचान की जाएगी
अरिंदम ने बताया कि सभी बीएलओ के माध्यम से वोटर लिस्ट से मिलान करके भी टीकाकरण से छूटे हुए लाभार्थियों की पहचान की जाएगी। इसके अलावा कल्याण विभाग के पेंशनधारकों के डाटा की मदद से भी छूटे हुए लाभार्थियों का पता लगाने का काम किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले के सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने कार्यालय के समस्त कर्मचारियों का शतप्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करवाएं।
उपायुक्त ने बताया कि आईआईटी मंडी व पॉलिटैक्नीक संस्थानों समेत जिले के बड़े शिक्षा संस्थानों के लिए विशेष कैंप लगाकर टीकाकरण का कार्य किया जाएगा। इसमें वहां रह रहे स्टाफ और शोधार्थियों को वैक्सीन लगाई जाएगी।
अरिंदम ने कहा कि कुछ मामलों में कोविड-19 टीका लगवाने को लेकर हिचकिचाहट की बात भी सामने आ रही है। लोगों में विश्वास बढ़ाने, उन्हें प्रेरित व प्रोत्साहित करके इस समस्या के समाधान के लिए और उन्हें कोविड उपयुक्त व्यवहार अपनाने रखने को जागरूक करने के लिए विशेष प्रयास किए जाएंगे। इसके लिए प्रिंट, सोशल व इलेक्ट्रानिक मीडिया सहित फोक मीडिया का भी सहारा लिया जाएगा।
200 से 250 सेशन साइट पर किया जाएगा टीकाकरण
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि शतप्रतिशत टीकाकरण के अभियान को सफल बनाने हेतु हर स्वास्थ्य ब्लॉक के लिए स्वास्थ्य विभाग की 18 से 20 टीमें तैनात की गई हैं। जिलेभर में 200 से 250 सेशन साइट पर टीकाकरण का कार्य किया जाएगा। उन्होंने लोगों से आगे आकर टीकाकरण अभियान की सफलता में सहयोग करने और वैक्सीन लगवाकर खुद को व अपने परिवार को सुरक्षित बनाने का आग्रह किया। बैठक में जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश ठाकुर ने बताया कि जिला में वैक्सीन का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि सभी के सक्रिय सहयोग से जिला में शतप्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त किया जाएगा। बैठक में राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. हितेन बन्याल, जोनल अस्पताल मंडी के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. डीएस ठाकुर, जिले के सभी बीएमओ सहित विभिन्न विभागों के कार्यालय प्रमुख मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments