Homeराज्यहिमाचल प्रदेशहिमाचल: पेपर लीक मामला में एसआईटी इन पहलुओं पर करेगी जांच

हिमाचल: पेपर लीक मामला में एसआईटी इन पहलुओं पर करेगी जांच

जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (जेओए) आईटी सीरीज बी का पेपर लीक मामले की जांच के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार ने एसआईटी गठित करने का फैसला लिया है। प्रदेश पुलिस पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू की ओर से जारी आदेशों के तहत एसआईटी का नेतृत्व डीआईजी सेंट्रल रेंज मंडी मधुसूदन करेंगे।

आज समाज डिजिटल, शिमला:
जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (जेओए) आईटी सीरीज बी का पेपर लीक मामले की जांच के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार ने एसआईटी गठित करने का फैसला लिया है। प्रदेश पुलिस पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू की ओर से जारी आदेशों के तहत एसआईटी का नेतृत्व डीआईजी सेंट्रल रेंज मंडी मधुसूदन करेंगे।

उपअधीक्षक पर है पेपर लीक करने का आरोप

तीसरी आईआरबीएन से सौम्या संबासिवन, सीओ चौथी आईआरबीएन दिवाकर शर्मा और डीएसपी सीआईडी मंडी यूनिट सुशांत शर्मा को भी एसआईटी में शामिल किया गया है। एसआईटी को मंडी पुलिस द्वारा इस मामले में की जा रही जांच पर प्रतिकूल प्रभाव डाले बिना मामले की विस्तृत जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। अभी तक पुलिस जांच में सामने आया है कि मंडी जिले में नेरचौक स्थित अभिलाषी बीएड कॉलेज में बने परीक्षा केंद्र के उप अधीक्षक प्रोफेसर गोपाल कुमार ने लीक किया था। बीते रविवार को हुई परीक्षा से 25 मिनट पहले गोपाल ने पेपर लीक किया और क्लर्क ने इसे अभ्यर्थी तक पहुंचाया था।

आरोपी प्रोफेसर हो चुका गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपी प्रोफेसर को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में अब तक सात आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। ये सभी आपस में रिश्तेदार और दोस्त हैं। सभी को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। प्रश्नपत्र लीक होने की गुत्थी 12 घंटों के भीतर सुलझाने के बाद सोमवार को एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने मीडिया से बातचीत में यह जानकारी दी थी।

जांच में ये पहलू हो सकते हैं शामिल

  • क्या इस मामले में कोई बड़ी साजिश है या नहीं?
  • क्या यह घोटाला एक केंद्र तक सीमित है, या इसका जाल प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में फैला हुआ है?
  • क्या यह एक संगठित अपराध है या व्यक्तिगत अपराध?
  • क्या इस मामले में सरकारी अधिकारी शामिल हैं?
ये भी पढ़ें : करनाल में कांग्रेस का कान खोलो प्रदर्शन, तालाबंदी का अल्टीमेटम
ये भी पढ़ें : हरियाणा-पंजाब सहित कई राज्यों में क्यों हुई बिजली गुल, गहराएगा संकट, ये हैं कारण
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular