Homeराज्यहिमाचल प्रदेशवाह रे सरकार: एक शिक्षक के आसरे 5 कक्षाएं

वाह रे सरकार: एक शिक्षक के आसरे 5 कक्षाएं

आज समाज डिजिटल, Chamba News: यह है हिमाचल प्रदेश। यहां शिक्षा का अभाव। कहीं पढ़ने की इच्छा कम। कहीं सिस्टम की बेरुखी। पहले कोरोना का प्रकोप। इलाके के स्कूल बंद। ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हुई तो सिग्नल फेल। इन सबसे दीगर, अब कोरोना का प्रकोप खत्म हो चुका है। स्कूल पूरी तरह से खुल चुके हैं। इन हालातों में भी बच्चों का पढ़ना एक मजाक ही लग रहा है। अब आड़े आ रही है अध्यापकों की कमी। बात करते हैं चंबा जिले की। यहां बहुत से स्कूल ऐसे हैं जो एक ही अध्यापक के सहारे चल रहे हैं।

पता होने के बावजूद नहीं भरे जा रहे पद

यदि बात की जाए रोजाना की तो यहां हर रोज किसी न किसी स्कूल के बच्चे अध्यापकों की कमी के कारण सड़क पर उतर रहे हैं। राजकीय केंद्रीय प्राथमिक पाठशाला जूनागढ़ भूनाड का रुख करते हैं। यहां पर भी पांच कक्षाओं के लिए मात्र एक अध्यापक बच्चों को पढ़ा रहा है। साथ ही बच्चों को शारीरिक शिक्षा का भी ज्ञान दिया जा रहा है। इस बात से खुद ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि एक अध्यापक पांच कक्षाओं को किस तरह से पढ़ा रहा होगा। स्कूल प्रशासन की ओर से विभाग को कई बार इस समस्या से अवगत कराया जा चुका है, लेकिन अभी तक स्कूल में अध्यापकों के रिक्त पड़े पदों को नहीं भरा गया।

छोटे-छोटे बच्चे बता देंगे स्कूल की दशा

छोटे-छोटे बच्चों ने बताया कि उनके स्कूल में मात्र एक ही अध्यापक है और जिसकी वजह से उन्हें पढ़ाई में दिक्कत हो रही है। उन्होंने बड़े ही मासूम तरीके से शिक्षा विभाग से आग्रह किया है कि उनके स्कूल में अध्यापकों की कमी को पूरा किया जाए, ताकि वह सही तरीके से अपनी शिक्षा ग्रहण कर पाए, स्कूल में मात्र कार्यरत एक अध्यापक का कहना है कि आसपास के जो सेंटर है, उनमें भी इसी तरह से अध्यापकों की कमी चल रही है और अगर डेपुटेशन पर कोई अध्यापक को बुलाना हो तो उस स्कूल में भी दिक्कत हो जाती है।

उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग को इसके बारे में लिखित रूप से भी बता दिया था, लेकिन अभी तक अध्यापकों की प्रमोशन नहीं हुई है, जिसकी वजह से अध्यापकों की कमी चल रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग का यह कहना है कि काफी स्कूलों में अध्यापकों की कमी चल रही है, लेकिन सरकार पूरी कोशिश कर रही है कि जल्द से स्कूलों में खाली पड़े पदों को भरा जाए।

ये भी पढ़ें : आय से अधिक संपत्ति मामले में चौटाला दोषी करार, 26 को सजा पर होगी बहस

ये भी पढ़ें : टीजीटी-पीजीटी के 5500 पदों पर भर्ती जल्द: मनोहर लाल

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular