Homeराज्यहिमाचल प्रदेश80 Crores Spent on Skill Enhancement: 1,33,763 लाभार्थियों के कौशल निखार पर...

80 Crores Spent on Skill Enhancement: 1,33,763 लाभार्थियों के कौशल निखार पर 80 करोड़ व्यय

रमेश पहाड़िया, सोलन:

80 Crores Spent on Skill Enhancement: प्रदेश सरकार बेरोजगार युवाओं के कौशल को वर्तमान आवश्यकताओं के अनुरूप निखारने के लिए योजनाबद्ध कार्य कर रही है। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए कौशल विकास भत्ता योजना भी कार्यान्वित की जा रही है। यह जानकारी आज सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे विशेष प्रचार अभियान में नालागढ़ एवं दून विधानसभा क्षेत्रों में प्रदान की गई।

Read More : Indira Gandhi University Topper: खातौली अहीर के अर्पण ने कालेज में किया टॉप

कलाकारों ने दी योजनाओं की जानकारी 80 Crores Spent on Skill Enhancement

पूजा कला मंच, बाड़ीधार के कलाकारों ने नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत सरौर एवं ग्राम पंचायत बरूणा के कोटला गांव में तथा सप्तक कला मंच कण्डाघाट के कलाकारों ने दून विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पचांयत ढेला तथा ग्राम पंचायत लोधी माजरा में स्थानीय वासियों को विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान की।

Read Also : Scholarship For Disabled Students विकलांग छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की घोषणा, 15 दिसंबर तक कर सकेंगे आवेदन

सोलन में 1,33,763 युवाओं को मिला भत्ता 80 Crores Spent on Skill Enhancement

लोगों को अवगत करवाया गया कि कौशल विकास भत्ता योजना के अंतर्गत अभी तक 1,33,763 लाभार्थियों के कौशल निखार पर 80 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं। सोलन जिला में 13 हजार से अधिक युवाओं को कौशल विकास भत्ता योजना के अन्तर्गत 08 करोड़ रुपए से अधिक उपलब्ध करवाए गए। कलाकारों ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं एवं धात्री महिलाओं को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से लाभार्थी महिलाओं को तीन किस्तों में 5-5 हजार रुपए की नकद प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है।

Read Also : Daughter Burdened बेटी बोझ, ढाई माह की नवजात अस्पताल में छोड़ा

योजना के तहत पात्र महिला को औसतन 6000 रुपए 80 Crores Spent on Skill Enhancement

पात्र लाभार्थी संस्था में प्रसव के बाद जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत मातृत्व लाभ के लिए अनुमोदित मानदंडों के अनुसार शेष राशि प्राप्त करने के हकदार होंगे। योजना के तहत पात्र महिला को औसतन 6000 रुपए प्रदान किए जा रहे हैं। कलाकारों ने विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान करने के साथ-साथ उनके लाभ प्राप्त के तरीकों को बताया। इस अवसर पर गृहणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, हिम केयर योजना की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। कलाकारों ने उपस्थित जनसमूह को नशे के दुष्प्रभावों के बारे में भी जानकारी प्रदान की।

Read More : Roadways SC Employees Sangharsh Samiti of Haryana: जातिगत टिप्पणी के विरोध में कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

युवाओं को स्वस्थ व जागरूक होना जरूरी 80 Crores Spent on Skill Enhancement

लोगों को बताया गया कि हमारे युवाओं का पूरी तरह स्वस्थ एवं जागरूक होना आवश्यक है। यह तभी हो सकता है जब हमारे युवा नशे से दूर रहें। इस अवसर पर ग्राम पंचायत सरौर के प्रधान धर्मपाल चन्देल, उप प्रधान जयपाल, वार्ड सदस्य निर्मला देवी, प्रेमलता, कमलेश, बलबीर, ग्राम पंचायत बरूणा के प्रधान गुरमीत सिंह, उप प्रधान जगजीत सिंह, वार्ड सदस्य जसविंदर कौर, बलबीर सिंह, ग्राम पंचायत ढेला की प्रधान नीलम, उप प्रधान तरसेम लाला चैधरी, वार्ड सदस्य मनोहर लाल, राम कृष्ण एवं सुरेन्द्रा देवी, ग्राम पंचायत लोधी माजरा की प्रधान दर्शना, पंचायत सचिव नीलम, वार्ड सदस्य कृष्ण एवं जोगेन्द्र सहित ग्रामवासी उपस्थित थे।

Also Read : All India Jat Heroes Memorial College में सात दिवसीय एनएसएस शिविर का शुभारंभ

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments