Homeराज्यहिमाचल प्रदेशइस साल 6 लाख क्विंटल गेहूं खऱीद का लक्ष्य, खरीद पर होगा...

इस साल 6 लाख क्विंटल गेहूं खऱीद का लक्ष्य, खरीद पर होगा 120 करोड़ रुपए खर्च : वीरेंद्र कंवर 6 Lakh Quintal Wheat Procurement Target

आज समाज डिजिटल, बिलासपुर : 

6 Lakh Quintal Wheat Procurement Target : ग्रामीण विकास, पंचायती राज व कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा है कि प्रदेश सरकार ने इस साल 6 लाख क्विंटल गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा है। इस खरीद से प्रदेश के हजारों किसानों को 120 करोड़ रुपए की राशि मिलेगी। वे रविवार को बिलासपुर के मजारी में 1.85 करोड़ रुपए की लागत से तैयार अनाज मंडी के उद्घाटन के अवसर पर जनसभा में बोल रहे थे।

बीते साल गेहूं 1975 रुपए प्रति क्विंटल हुई थी खरीद

कंवर ने कहा कि बीते साल गेहूं 1975 रुपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदा गया था, जबकि इस साल 2015 रुपए प्रति क्विंटल की दर से गेहूं की खरीद होगी। (6 Lakh Quintal Wheat Procurement Target)  उन्होंने कहा कि बीते साल कोरोना काल के बावजूद 3258 किसानों का गेहूं खऱीदा गया और 25.75 करोड़ की राशि इस पर व्यय की गई।

वहीं, 5837 किसानों का 2.76 लाख क्विंटल धान खरीदा गया। इस दौरान किसानों को 54.13 करोड़ रुपए मिले। उन्होंने कहा कि इस साल उपरोक्त 6 लाख क्विंटल गेहूं खरीद के लक्ष्य को पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

मजारी खड्ड के तटीकरण के लिए 50 लाख रुपए देने की घोषणा

कृषि मंत्री ने कहा कि मजारी में अनाज मंडी के बनने से 12 पंचायत के किसानों को फसल बेचने में आसानी होगी। इस अनाज मंडी को कृषि विपणन बोर्ड ने कोरोना काल के बावजूद डेढ़ साल से भी कम समय में तैयार किया। उन्होंने कहा कि 5 बीघा में तैयार इस मंडी में सेवाओं को और सुदृढ़ करने पर बल दिया जाएगा।

इस दौरान उन्होंने मजारी खड्ड की सफाई के लिए 5 लाख, मजारी से थलु सड़क के लिए 11 लाख, मजारी खड्ड के तटीकरण के लिए 50 लाख रुपए देने की घोषणा भी की। उन्होंने मजारी में पशु औषधालय को स्तरोन्नत करने के लिए मामला कैबिनेट में ले जाने का आश्वासन भी दिया। (6 Lakh Quintal Wheat Procurement Target) उन्होंने गंभीरपुर संपर्क सड़क के लिए 9 लाख रुपए देने की घोषणा और मजारी में ट्रांसफार्मर को अपग्रेड करने के लिए भी मंत्री ने निर्देश दिए।

कंवर ने कहा कि प्रदेश में अनाज मंडियों में सेवाओं को सुदृढ़ करने के लिए प्रदेश सरकार प्रयासरत रहेगी, ताकि किसानों को समस्याओं का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि प्रदेश की मंडियों में 250 करोड़ रुपए की लागत से अधोसंरचना तैयार की जा रही है।

उन्होंने प्रदेश सरकार की विभिन्न नीतियों के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सभी वर्गों के हितों के लिए कार्य कर रही है। उन्होंने अपने विभागों की उपलब्धियों का ब्यौरा भी जनसभा में लोगों के बीच रखा।

प्रदेश आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष रणधीर शर्मा ने इस मौके पर मंडी के उद्घाटन के लिए कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर का आभार जताया। उन्होंने कहा कि इससे स्थानीय किसानों को फसल बेचने के लिए आसानी होगी और क्षेत्र की वर्षों पुरानी मांग को पूरा कर प्रदेश सरकार ने किसान हितैषी होने का प्रमाण दिया है।

शर्मा ने स्थानीय मांगों को भी प्रमुखता से मंत्री के समक्ष उठाया और उनको पूरा करने के लिए आग्रह किया। जनसभा में स्थानीय पंचायत के प्रधान जसवीर सिंह और नंबरदार स्वर्ण सिंह ने भी क्षेत्र की समस्याओं को मंत्री के समक्ष उठाया।

ये रहे मौजूद

इस मौके पर प्रदेश कृषि विपणन बोर्ड के एमडी नरेश ठाकुर ने कहा कि मंडी को रिकॉर्ड समय में तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के दिशा निर्देशों अनुसार किसानों के हित में कार्य करने का प्रयास किया जा रहा है।

इस मौके पर विपणन बोर्ड के अधिशाषी अभियंता विजय चौहान, जिला परिषद सदस्य मान सिंह धीमान, पंचायत प्रधान जगदीश, एपीएमसी सचिव संदीप गौतम सहित स्थानीय निवासी, अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित रहे।

6 Lakh Quintal Wheat Procurement Target

Also Read :  टॉप 5 इलेक्ट्रिक स्कूटर, इस साल बने जो इंडियन्स की पंसद
Connect With Us : Twitter Facebook
SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular