Homeराज्यहिमाचल प्रदेशकुल्लू: जल स्रोतों की स्थिरता और बफर स्टोरेज के निर्माण के लिए...

कुल्लू: जल स्रोतों की स्थिरता और बफर स्टोरेज के निर्माण के लिए 174 करोड़ का प्रस्ताव : शिवम

आज समाज डिजिटल, कुल्लू:
कुल्लू जिले में जल स्त्रोतों की स्थिरता और बफर स्टोरेज के निर्माण के लिए जल शक्ति विभाग ने 174 करोड़ रुपए का एक प्रस्ताव तैयार करके स्वीकृत्ति के लिए केन्द्र सरकार को भेजा है। यह बात अतिरिक्त उपायुक्त शिवम प्रताप सिंह ने जिला जल एवं स्वच्छता मिशन (डीडब्ल्यूएसएम) की त्रैमासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।
अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि योजना के तहत जिले में अनेक जगहों पर रिचार्ज पिट्स का निर्माण तथा क्रेट वर्क किया जाएगा, ताकि सूखे की स्थिति के दौरान इन जल स्त्रोतों का सदुपयोग किया जा सके। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन एक महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके तहत आपात के दिनों में सुरक्षित पेयजल उपलब्धता सुनिश्चित बनाना है तथा पेयजल स्त्रोतों व योजनाओं के संरक्षण के लिए दीर्घकालीन सतत योजना तैयार करना है। उन्होंने कहा कि स्त्रोत स्थिरता का मुख्य उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि जलापूर्ति योजना जितनी अवधि के लिए डिजाइन की गई है, पूरी अवधि सुचारू ढंग से संचालित हो। इस उद्देश्य की पूर्ति वर्षा जल संग्रहण, स्त्रोत के कृत्रिम पुनर्भरण इत्यादि जैसे निरंतर उपायों से की जा सकती है।
वहीं अधीक्षण अभियंता केके कुल्लवी ने जानकारी दी कि जिले में एफएचटीसी यानी फंगशनल हाउस टेप क्नेक्शन के तहत जिले में 1,19,132 घर हैं, जिनमें से 71,644 को मार्च-2021 तक नल में जल प्रदान कर दिया गया है। चालू वित्त वर्ष के दौरान 22,317 घरों को कवर करने का लक्ष्य निश्चित किया गया है। उन्होंने कहा कि जुलाई-2022 तक जिले के सभी घरों को जल जीवन मिशन योजना के तहत कनेक्शन प्रदान कर दिए जाएंगे। बैठक में जल शक्ति विभाग के अभियंताओं के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments