Homeहरियाणायमुनानगरविदेश भेजने के नाम पर 16 लाख रुपये ठगे

विदेश भेजने के नाम पर 16 लाख रुपये ठगे

प्रभजीत सिंह लक्की, Yamunanagar News:
मामली निवासी तरसेम के बेटे प्रदीप को विदेश भेजने के नाम पर 16 लाख रुपये ठग लिए। आरोप सलेमपुर बांगर निवासी मोहित उर्फ टिंकू, उसके पिता कर्मजीत व मारवां कलां निवासी मनजीत सिंह पर लगा है। आरोपितों ने प्रदीप को फर्जी वीजा थमा दिया। बाद में जब मामला खुला, तो आरोपितों से पैसे वापस मांगे। जिस पर उन्होंने साफ इंकार कर दिया। अब शिकायत पर जगाधरी सदर थाना पुलिस ने केस दर्ज किया।

विदेश भेजने के नाम पर मांगे थे 16 लाख

पुलिस को दी शिकायत के मुताबिक गांव मामली निवासी तरसेम सिंह अपने पुत्र प्रदीप को विदेश भेजना चाहता था। रिश्तेदार मोहित लोगों को विदेश भेजने का काम करता है। इस पर उससे बातचीत की तो उसने विदेश भेजने के नाम पर 16 लाख रुपये मांगे। इस पर तरसेम सिंह तैयार हो गया। आरोपित मोहित ने तरसेम से उसके बेटे प्रदीप के दस्तावेज लिए। कुछ दिनों आरोपित का उनके पास काल आया और कहा कि प्रदीप का वीजा लग गया।

खाते में पैसा जमा करा दो। इस पर 27 दिसंबर 2021 को उसके खाते में दो लाख रुपये जमा करा दिया। फिर उसने वीजा आने की बात कहकर अपने पार्टनर मनजीत सिंह के खाते में 12 लाख रुपये जमा कराने के लिए कहा। जिस पर तरसेम ने तुरंत पांच लाख रुपये जमा करा दिए। सात लाख रुपये बाद में जमा कराए। दो लाख रुपये आरोपित ने नकद लिए। इसके बाद मार्च माह में आरोपित ने उनके मोबाइल पर टिकट भेजे। साथ ही कॉल कर कहा कि वह प्रदीप को अपने साथ दिल्ली लेकर जाएंगे और वहीं से फ्लाइट में बैठा देंगे।

ऑफिस में बैठाकर रखा फिर कहा कैंसल हो गया टिकट

14 मार्च को प्रदीप दिल्ली गया तो आरोपितों ने उसे एक कार्यालय में बैठाकर रखा। बाद में कह दिया कि टिकट कैंसिल हो गई है। अब दोबारा टिकट करानी होगी। जिसमें कुछ समय लगेगा। इसके बाद काफी समय बीत गया, लेकिन टिकट नहीं कराई गई। शक होने पर आरोपितों से पैसे वापस मांगे, तो वह टाल मटोल करने लगे। पंचायत हुई, तो आरोपितों ने अप्रैल माह में पैसे वापस करने की बात कही। तय समय पर भी आरोपित मुकर गए और पैसे देने से साफ इंकार कर दिया।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular