Homeहरियाणायमुनानगरनशे के नहीं दिए पैसे, ओवरडोज देकर की हरप्रीत की हत्या, दो...

नशे के नहीं दिए पैसे, ओवरडोज देकर की हरप्रीत की हत्या, दो भाइयों समेत तीन गिरफ्तार

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर :
पुलिस ने 28 अगस्त को हुई हरप्रीत की हत्या के मामले में दो भाइयों समेत 3 युवकों को गिरफ्तार किया है। मृतक इनसे नशा खरीदता था, लेकिन पैसे नहीं दे पा रहा था। आरोप है की तीनों ने उसे घर बुलाकर नशे का डबल डोज इंजेक्शन दे दिया। बाद में उससे मारपीट की, जिससे उसकी मौत हो गई। बाद में उसके शव को लेदा-छछरौली कच्चे रास्ते पर जंगल में पुलिया के नीचे फेंक दिया था। पुलिस ने तीनों को रिमांड पर लिया है।

जमकर की मारपीट की

सीआइए-1 टीम इंचार्ज प्रमोद वालिया ने बताया कि सूचना मिली थी 3 युवक गुलाबगढ़ बस स्टैंड पर भागने की फिराक में हैं। सब इंस्पेक्टर जीत सिंह, हेड कांस्टेबल मुकेश, रणधीर, विमल हरदयाल की टीम ने मौके पर जाकर तीनों युवकों को काबू किया। उनकी पहचान नाहर ताहरपुर निवासी लाभ सिंह, रवि उर्फ शुभम और उर्जनी निवासी कपिल उर्फ काला के नाम से हुई। रवि व लाभ सिंह सगे भाई हैं। पूछताछ में खुलासा हुआ कि उन्होंने अपने दोस्त हरप्रीत की नशे की डबल डोज देकर हत्या की है। आरोपियों ने इंजेक्शन में डबल डोज डालकर हरप्रीत सिंह को लगा दिया। इससे वह बेहोश हो गया। उसके बाद उसके साथ जमकर मारपीट की, जिससे उसकी मौत हो गई। किसी को शक न हो आरोपी लाभ सिंह ने अपनी कार में हरप्रीत के शव को डाल लिया और रवि व कपिल को साथ लेकर उसके शव को लेदा छछरौली कच्चे रास्ते पर जंगल में पुलिया के नीचे शव को फेंक दिया। छरौली के खेड़ा मोहल्ला निवासी हरप्रीत सिंह गुरुग्राम में एक कार कंपनी में नौकरी करता था। वह रविवार 28 अगस्त को घर आया। लाभ सिंह ने उसे फोन कर अपने गांव में बुला लिया। वहां पर रवि व कपिल भी मौजूद थे। हरप्रीत सिंह ने नशे के इंजेक्शन के पिछले 3 महीने से आरोपियों के पैसे देने थे, लेकिन वह नहीं दे रहा था। पैसे मांगने पर गाली गलौज करता था। उस दिन भी जब पैसे मांगे तो उसने गाली गलौज की।

बाइक को मौके पर छोड़ा

शव फेंकने के बाद तीनों ने हरप्रीत सिंह की बाइक को कच्चे रास्ते पर खड़ा कर दिया। किसी को शक न हो इसलिए इंजेक्शन की सिरिंज उसके बाजू में लगा दी। उसके बाद वे मौके से फरार हो गए। पुलिस ने बताया कि तीनों आरोपी व मृतक हरप्रीत नशे का आदी था। वह नशे के इंजेक्शन लगाते थे। लेकिन हरप्रीत ने पिछले 3 महीने से उन्हें कोई पैसा नहीं दिया था। आरोपित लाभ सिंह पर पहले भी कई मामले दर्ज हैं। वर्ष 2015 में साढौरा थाना में दर्ज हत्या केस में उसे सजा हो चुकी है। वह इसमें हाईकोर्ट से राहत लेकर जेल से बाहर आया है।

ये भी पढ़ें : सरकार की योजनाओं ने किया युवाओं को खेलों के प्रति प्रेरित : दहिया

ये भी पढ़ें : ग्रह बचाने के लिए प्रकृति के प्रति श्रद्धा जरूरी: कुसुम धीमान

ये भी पढ़ें : ठेके में पेट्रोल डालकर आग लगाने के मामले मे एक ओर आरोपित गिरफ्तार

ये भी पढ़ें : कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर ज्ञानवर्धक कार्यक्रम

Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular