Homeहरियाणायमुनानगरप्रधानमंत्री की सुरक्षा की चूक के विरोध में प्रदर्शन : Protest Against...

प्रधानमंत्री की सुरक्षा की चूक के विरोध में प्रदर्शन : Protest Against PM Security Breach

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर:
Protest Against PM Security Breach : पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक के विरोध में बुधवार को भाजपा ओबीसी मोर्चा के कार्यकतार्ओं ने लघु सचिवालय में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान कार्यकतार्ओं ने पंजाब मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह उर्फ चन्नी और कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

हरियाणा के राज्यपाल को ज्ञापन Protest Against PM Security Breach

प्रदर्शन के बाद भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य और निगम महापौर मदन चौहान और मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज के नेतृत्व में उपायुक्त पार्थ गुप्ता को राष्ट्रपति व हरियाणा राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया। ज्ञापन में उन्होंने पंजाब सरकार को बर्खास्त करने और इस साजिश में शामिल आरोपियों को बेनकाब करने की मांग रखी।

करार दिया कांग्रेस की साजिश Protest Against PM Security Breach

भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं निगम महापौर मदन चौहान और मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ता बुधवार सुबह जगाधरी अनाजमंडी गेट पर एकत्रित हुए। पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के विरोध में सभी कार्यकर्ता यहां से नारेबाजी करते हुए पुराने राष्ट्रीय राजमार्ग से होते हुए लघु सचिवालय में पहुंचे और पंजाब मुख्यमंत्री व कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद उपायुक्त को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया गया।

भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं निगम महापौर मदन चौहान व प्रदेशाध्यक्ष कर्णदेव कांबोज ने कहा कि पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक सुनियोजित रणनीति के तहत कांग्रेस पार्टी व पंजाब सरकार की साजिश थी।

ओबीसी मोर्चा ने की निंदा Protest Against PM Security Breach

इसकी ओबीसी मोर्चा घोर निंदा करता है। यह प्रदर्शन प्रदेश के सभी 22 जिलों में किया गया। सभी जिलों से उपायुक्तों के माध्यम से राज्पाल को ज्ञापन भेजा गया। इस प्रदर्शन के माध्यम से मोर्चा का हर कार्यकर्ता मांग करता है कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक की साजिश में शामिल दोषियों को जल्द से जल्द बेनकाब किया जाए। उनपर सख्ती कार्रवाई कर कठोर सजा दी जाए। प्रधानमंत्री किसी एक दल का नहीं होता, वह संपूर्ण देश का प्रतिनिधित्व करता है।

उसकी सुरक्षा का जिम्मा हर राज्य की सरकार का कर्तव्य बनता है। लेकिन पंजाब में उनकी सुरक्षा में चूक बेहद चिंताजनक है। जब प्रधानमंत्री पंजाब गए थे तब प्रदर्शनकारियों को प्रधानमंत्री के रास्ते में जाने दिया गया। जबकि पंजाब मुख्यमंत्री, डीजीपी ने एसपी को आश्वासन दिया था कि प्रधानमंत्री रूट के लिए रास्ता साफ है। लेकिन जब प्रधानमंत्री रूट से निकले तो बीच रास्ते में प्रदर्शनकारी प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस मूकदर्शक होकर देखती रही। प्रधानमंत्री के एयरपोर्ट आने पर पंजाब के मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, मुख्य सचिव व डीजीपी का उपस्थित न होने शंका पैदा करता है।

जबकि मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, मुख्य सचिव व डीजीपी के अधीन राज्य की सुरक्षा होती है। पंजाब सरकार की यह लापरवाही बहुत निंदनीय है। आरोप है कि कांग्रेस के नेतृत्व में देश विरोधी ताकतों की यह सोची समझी साजिश है। इसलिए पंजाब सरकार को बर्खास्त किया जाए। इस साजिश में शामिल दोषियों को जल्द से जल्द बेनकाब कर उनपर कड़ी कार्रवाई की जाए।

प्रदर्शन में मोर्चा के प्रदेश सचिव ओमपाल, जिला अध्यक्ष सुलेख चंद, जिला उपाध्यक्ष दिनेश कांबोज, जिला महामंत्री संजीव सैनी, गुलाब कश्यप, जगदीश पाल, बलराम सैनी, रिंकू धीमान, रामनारायण, ललित पाल, पवन कांबोज, रामजतन, सुभाष, सोनी, साहिल, इलम चंद आदि मौजूद रहें।

Protest Against PM Security Breach

ALSO READ : तेज दौड़ में बरनाला का आकाश अखिल भारतीय यूनिवर्सिटी चैंपियन : Champion Of Barnala In Fast Running

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments