Homeहरियाणायमुनानगरनिरीक्षण में असंतोषजनक मिला कर्मचारी का व्यवहार

निरीक्षण में असंतोषजनक मिला कर्मचारी का व्यवहार

  • लंबित फाइलों के निपटान को मेयर हुए सख्त, दूसरे दिन भी किया प्रॉपर्टी टैक्स शाखा का औचक निरीक्षण
  • मेयर बोले, अपने कार्य के लिए शहरवासियों को कार्यालय के बार बार न काटने पड़े चक्कर

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर :
प्रॉपर्टी टैक्स शाखा की लंबित फाइलों के निपटान के लिए मेयर मदन चौहान शुक्रवार को सख्त नजर आए। दूसरे दिन फिर मेयर चौहान ने प्रॉपर्टी टैक्स शाखा का औचक निरीक्षण करने पहुंचे। निरीक्षण के दौरान एक कर्मचारी का व्यवहार जनता के कार्यों के प्रति असंतोषजनक पाया गया। जिस पर मेयर चौहान ने अधिकारियों को संबंधित कर्मचारी की सेवाएं तुरंत प्रभाव से रद्द करने के निर्देश दिए। मेयर चौहान ने अधिकारियों व कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिए कि वे लंबित फाइलों के निपटान का कार्य जल्द से जल्द पूरा करना सुनिश्चित करें। संबंधित कार्य में किसी प्रकार की कोताही व लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। शहरवासियों को अपने कार्यों के संबंध में कार्यालय के चक्कर न काटने पड़े। जो भी शहरवासी कार्यालय में आए, उसका कार्य प्राथमिकता से करें।

मेयर ने सेवा रद्द करने के दिए निर्देश

शुक्रवार सुबह जब मेयर मदन चौहान अचानक नगर निगम कार्यालय की प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच में पहुंचे तो एक कर्मचारी अपने फोन पर लगा हुआ था। जबकि उसके सामने कुछ लोग अपने विभिन्न कार्यों के संबंध में खड़े हुए थे। जबकि वीरवार को मेयर चौहान ने ब्रांच के सभी कर्मचारियों को अपने फोन बंद करके लंबित फाइलों का कार्य निपटाने के निर्देश दिए थे। बावजूद इसके वह कर्मचारी जनता के कार्यों को अनदेखा करते हुए अपने फोन में व्यस्त था। वहीं बताया गया है कि कर्मचारी का व्यवहार जनता के कार्यों के प्रति असंतोषजनक था। मेयर चौहान ने संबंधित कर्मचारी को अपने कार्य में सुधार करने को कहा, लेकिन वह कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। जिस पर मेयर चौहान ने संबंधित अधिकारियों को उस कर्मचारी की सेवाएं तुरंत प्रभाव से रद्द करने के निर्देश दिए। बता दें कि प्रॉपर्टी टैक्स शाखा व बिल्डिंग ब्रांच में प्रॉपर्टी आईडी संबंधित फाइल, अप्रवुड व अनप्रवुड कॉलोनी ऑब्जेक्शन, अन्य फाइलों का कार्य किया जा रहा है। इन फाइलों की संख्या काफी बढ़ चुकी थी। इनके निपटान के लिए मेयर ने कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिए हुए है।

मेयर चौहान ने कहा कि कर्मचारी अपने कार्य में किसी प्रकार की ढील व लापरवाही न बरते। जनता के कार्यों का प्राथमिकता से समाधान करें। किसी भी शहरवासी को अपने एक काम के लिए बार बार कार्यालय न आना पड़े। मेयर मदन चौहान ने कहा कि हमें ऐसे कर्मचारियों की आवश्यकता नहीं है। जो जनता के कार्यों का निपटान करने के प्रति गंभीर नहीं है।

ये भी पढ़ें: प्रेम व भाईचारा समाज को जोड़ने का कार्य करता है: विजय जैन

ये भी पढ़ें: किसानों ने सचिवालय के बाहर अर्धनग्न होकर किया प्रदर्शन, सौंपा ज्ञापन

ये भी पढ़ें: निबंध प्रतियोगिता में बच्चों ने दिखाया उत्साह

 Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular