Homeराज्यहरियाणायमुनानगर : भगवान परशुराम के नाम से बने गोल चक्कर को पीडब्ल्यूडी...

यमुनानगर : भगवान परशुराम के नाम से बने गोल चक्कर को पीडब्ल्यूडी ने अवैध निर्माण करार देकर तुड़वाया

प्रभजीत सिंह (लक्की), यमुनानगर :

आइटीआइ के निकट भगवान परशुराम के नाम से बने गोल चक्कर को अवैध करार देते हुए पीडब्ल्यूडी ने जेसीबी से तुड़वा दिया। तहसीलदार कृष्ण कुमार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया। भारी पुलिस बल के साथ विभाग दो जेसीबी लेकर चौक पर पहुंचा। ब्राह्मण समुदाय ने इस कार्रवाई का विरोध किया लेकिन मौके पर तैनात अधिकारियों ने नियमों का हवाला देकर कार्रवाई जारी रखी।

चौक पर गोल चक्कर तैयार होने के बाद मामला सीएम विंडो पर पहुंच गया। तिलक नगर निवासी कर सलाहकार जगदीश वालिया सहित अन्य कई लोगों ने जनवरी 2021 में सीएम विंडो पर इसकी शिकायत दी थी। उनका तर्क था कि यह सड़क पीडब्ल्यूडी की है। इस पर किसी भी तरह का निर्माण अवैध है। वालिया का कहना है कि भगवान परशुराम के प्रति उनकी आस्था है लेकिन चौक पर गोल चक्कर बनाए जाने से यहां यातायात बाधित होगा। उनके नाम से यदि स्वागत द्वार बना दिया जाए तो उनको कोई आपत्ति नहीं है। इसके लिए वह किसी भी तरह का सहयोग करने के लिए भी तैयार हैं। उनको आपत्ति केवल गोल चक्कर है। भगवान परशुराम का वह भी सम्मान करते हैं।

आइटीआइ के पास चौक का नाम भगवान परशुराम के नाम पर रखे जाने व यहां गोल चक्कर बनाए जाने का प्रस्ताव 20 जून 2019 हो हाउस की बैठक में आया था। मेयर मदन चौहान व अन्य पार्षदों ने इस प्रस्ताव को स्वीकृत किया। उसके बाद निगम ने यहां गोल चक्कर का निर्माण करवा दिया। लेकिन पीडब्ल्यूडी से अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं लिया गया। 15 जून 2020 को मेयर मदन चौहान ने इसका उद्घाटन किया। मामला सीएम विंडो पर जाने के बाद अप्रैल 2020 में गोल चक्कर हो तोड़े जाने के आदेश हुए। वहीं चौक पर गोल चक्कर तोड़े जाने के आदेशों के बाद ब्राह्मण समुदाय के लोगों ने रोष व्यक्त किया था। चौक पर भगवान परशुराम के फरसे लगा दिए थे। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल मेयर मदन चौहान से भी मिला। उन्होंने यहां भगवान परशुराम के नाम से स्वागत द्वार बनाने की बात कही थी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments