Thursday, December 2, 2021
Homeराज्यहरियाणायमुनानगर: संसद कूच के लिए सैकड़ों किसान यमुनानगर से रवाना

यमुनानगर: संसद कूच के लिए सैकड़ों किसान यमुनानगर से रवाना

प्रभजीत सिंह (लक्की), यमुनानगर:

संसद कूच के लिए किसानों का एक जत्था मंगलवार को दिल्ली बॉर्डर के लिए रवाना हुआ। इस दौरान जत्थे का नेतृत्व करते हुए भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी शहर के एसके रोड़ से गुजरे। जत्थे का क्षेत्र के किसानों ने शहर की कांबोज धर्मशाला के बाहर जोरदार स्वागत किया। इस दौरान क्षेत्र के किसानों व मंडी के आढ़तियों ने सरदार गुरनाम सिंह चढ़ुनी का फूलमालाओं से जोरदार स्वागत किया। किसान नेता गुरनाम सिंह चढुनी ने इस दौरान शहर की धर्मशाला में स्थित शहीद उधमसिंह की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। इस अवसर पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए सरदार गुरनाम सिंह चढुनी ने कहा कि राजनीति में असंतुलन को खत्म करने के लिए चुनाव में उतरना जरूरी है। उन्होंने कहा कि जब देश आजाद हुआ था, तब कहा जाता था कि लोगों का राज, लोगों के द्वारा और लोगों के लिए था। लेकिन अब उल्टा हो चुका है, कारपोरेट का राज, कारपोरेट के द्वारा और कारपोरेट के लिए हो गया है।

उन्होने कहा कि किसान मोर्चा मिशन उत्तर प्रदेश के तहत यूपी में बीजेपी को हराने की नीति पर काम करेगा, जबकि वे मिशन पंजाब के जरिए अपने बीच से ही लोगों को चुनाव में उतारने की बात कह रहे है। क्योंकि इससे पहले कई राज्यों में हार का सामना करने के बाद भी बीजेपी सरकार ने इन कानूनों को रद्द नहीं किया है, इसलिए हमारे बीच से ही किसी को चुनाव में उतरना होगा, ताकि हमें फिर से अपने अधिकारों के लिए उन नेताओं के आगे गिड़गिड़ाना न पड़े। वही उन्होंने बताया कि 22 जुलाई से 13 अगस्त तक 200 किसानों का जत्था प्रतिदिन शांतिपूर्ण तरीके से संसद का कूच करेगा। इस अवसर पर मंडी एसोसिएशन रादौर के प्रधान संजय गुप्ता, आढ़ती गुरनाम सिंह, राजेश कांबोज रतनगढ़, मंजीत चौगांवा, जिला अध्यक्ष संजु गुंदयाना, मनदीप रोडछप्पर, युवा प्रधान संदीप टोपरा, ब्लॉक प्रधान जोगिन्द्र सिली, हरपाल सुढल, शिवकुमार संधाला, करनैलसिंह अमलोहा, रामसिंह जत्थेदार, निर्मल कलेसरा, कर्मबीर मंसुरपुर, धर्मपाल गुंदयाना, जोगिन्द्र गुंदयाना, ईश्वरसिंह बसातिया, कृष्णपाल सुढल, मोनू धानुुपुरा और रोशन अमलोहा मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments