Homeराज्यहरियाणायमुनानगर : संयुक्त किसान मोर्चा की ऐतिहासिक किसान महापंचायत 5 सितंबर 

यमुनानगर : संयुक्त किसान मोर्चा की ऐतिहासिक किसान महापंचायत 5 सितंबर 

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर :
भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष सुभाष गुर्जर ने रादौर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से एक ऐतिहासिक किसान महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस महापंचायत में जिले से हजारों की संख्या में किसान भाग लेने जाएगे। महापंचायत की तैयारी को लेकर 1 सितंबर को जगाधरी में जिला कार्यकारिणी की एक विशेष बैठक होगी। जिसमें जिला तथा ब्लॉक स्तर के सभी पदाधिकारी शामिल होंगे। महापंचायत को कामयाब बनाने को लेकर सभी पदाधिकारियों की डयूटिया लगाई जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने ब्लॉक अध्यक्षों को छोड़कर बाकी जिला कार्यकारिणी को भंगकर दिया है। इसी के तहत कर्णवीर सलेमपुर को जिला महासचिव तथा विनोद डांगी काजनु को जिला सचिव नियुक्त किया गया है। उन्होंने कहा कि 5 सितंबर के बाद पूरे जिला की कार्यकारिणी व ब्लॉक स्तर की कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। हर गांव में 21 सदस्य कमेटी बनाई जाएगी।
26 अगस्त को बिलासपुर में सफल किसान महापंचायत में दिन रात मेहनत करने वाले किसानों को कमेटी में शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने करनाल में निहत्थे किसानों पर बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज किया है। एक किसान की जान चली गई और एक किसान की आंखों की रोशनी चली गई। उन्होंने इसकी कड़ी निंदा करते हुए कहा कि यह सरकार तालिबान की सरकार है। जो किसानों का खून चूसने में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि 5 सितंबर की महापंचायत में कड़े निर्णय लिए जाएंगे। सरकार किसानों पर झूठे मुकदमे दर्ज करके व लाठियां चलाकर किसान के आंदोलन को कमजोर नहीं कर सकती। उन्होंने सभी किसानों से अपील की कि वे अपनी फसल और नस्ल को बचाने के लिए आंदोलन को मजबूत रखें। जो भी संयुक्त मोर्चे का आदेश आए, उसका पालन करें। उन्होंने कहा कि यह सरकार किसानों को बर्बाद करना चाहती है, लेकिन इसकी मंशा कभी पूरी नहीं होगी। आने वाले चुनाव में इसका खामियाजा भाजपा को भुगतना पड़ेगा। इस अवसर पर विनोद डांगी कांजनू जिला सचिव, यशपाल कंबोज चमरोडी, ओमपाल जुब्बल, मदनलाल कांजनू आदि मौजूद रहे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular