Homeराज्यहरियाणाविनोद शर्मा के एलान ने विरोधी पार्टियों की उड़ा दी नींद, निगम...

विनोद शर्मा के एलान ने विरोधी पार्टियों की उड़ा दी नींद, निगम चुनाव में पूर्व केंद्रीय मंत्री साबित कर चुके हैं लोकप्रियता

कपिल अग्रवाल, अंबाला:

हरियाणा सरकार जिला परिषद व ब्लॉक समिति के चुनाव की तारीख कब घोषित की जाएगी, यह तो कहना मुश्किल है, लेकिन पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा द्वारा बीते रोज अपने निवास पर समर्थकों के साथ बैठक के बाद जिला परिषद के चुनाव लड़ने का एलान कर दिया। जिसके बाद अब विरोधी पार्टियों के नेताओं की नींद उड़ने लगी है। करीब 8 महीने पहले अंबाला शहर के नगर निगम चुनाव में हरियाणा जनचेतना पार्टी (वी) के अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा अपनी लोकप्रियता साबित कर चुके हैं। यहां पर हम आपको बता दें कि विनोद शर्मा की लोकप्रियता की बदौलत मेयर शक्तिरानी शर्मा ने करीब 8500 वोटों से जीत हासिल की थी, तो वहीं 20 पार्षदों में से पार्टी के 8 पार्षदों जीतने में कामयाब रहे।
बीते रोज पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा द्वारा समर्थकों के साथ की गई मीटिंग में अंबाला के लगभग हर गांव से कोई न कोई व्यक्ति मीटिंग में शामिल होने पहुंचा। इस दौरान समर्थकों ने एक जुट होकर कहा कि जैसे नगर निगम के चुनाव में पार्टी को मजबूत जीत मिली है उससे ज्यादा जीत ग्रामीण एरिया से दिलाकर भेजेंगे। विनोद शर्मा की ओर से समर्थकों को जिला परिषद के साथ साथ ब्लॉक समिति के चुनाव की तैयारी करने के लिए स्पष्ट आदेश कर दिए तो वहीं बकायदा उम्मीदवारों के चुनाव के लिए दो कमेटियों का भी गठन कर दिया।
विनोद शर्मा के जिला परिषद व ब्लॉक समिति के चुनाव लड़ने के एलान के बाद विपक्षी दलों की नींद उड़ चुकी है और विरोधी पार्टियों के नेताओं को चिंता है कि यदि जिला परिषद के चुनाव में भी अंबाला शहर नगर निगम के जैसे हालात बने तो उसका राजनीतिक अस्तित्व खतरे में पड़ सकता है। ऐसे में कई नेताओं को तो अब अपने अस्तित्व को बचाने के लिए संघर्ष करना पड़ सकता है। वहीं दुसरी तरफ अंबाला शहर विधानसभा क्षेत्र के तीन जिला परिषद की सीटों पर विनोद शर्मा अपना अलग मुकाम रखते हैं। विधायक व मंत्री रहते हुए विनोद शर्मा ने नग्गल एरिया में जो विकास कार्य करवाए, इन्हें आज भी ग्रामीण याद रखते हैं।
हर साल बरसाती पानी का प्रकोप झलने वाले नग्गल के किसान किसी समय आसमान पर बादल देखकर परेशान हो जाते थे, लेकिन पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा ने नग्गल के किसानों का दर्द समझा और नग्गल में साइफन का निर्माण करवाया, जिसके बाद नग्गल में बरसाती पानी की निकासी की समस्या पूरी तरह खत्म हो गई। पिछले कई सालों ने नग्गल में बरसाती पानी की कोई मार नहीं और अब ग्रामीणों को बरसात होने के बाद फसल बर्बाद होने की चिंता नहीं सताती। वहीं विनोद शर्मा के पास गांवों में सरपंच पद के उम्मीदवार से लेकर जिला परिषद तक के मजबूत दावेदारों का साथ है और निश्चिततौर पर हरियाणा जनचेतना पार्टी (वी) के उम्मीदवारों के जिला परिषद के चुनाव घोषित होने के बाद अंबाला में होेने वाले जिला परिषद व ब्लॉक समिति के चुनाव के मैदान में उतरने के बाद कई नेताओं की चिंता बढ़ जाएगी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments